भाजपा नेता के पिता की हत्या के विरोध में पुलिस चौकी पर ग्रामीणों ने लगाया जाम, किया प्रदर्शन


आर्थिक मदद, नौकरी व गांव से अलग जगह मिलने की रखी मांग, गांव में पुलिस फोर्स तैनात

 
न


जानसठ। थाना क्षेत्र के गांव भलवा में गत दिवस भाजपा नेता के पिता की गला रेतकर हुई हत्या के मामले में ग्रामीणों ने भलवा पुलिस चौकी के सामने खतौली जानसठ मार्ग को जाम करते हुए प्रदर्शन किया और मृतक परिवार को आर्थिक मदद, नौकरी व गांव से अलग जगह मिलने की मांग की गई। प्रशासन के आश्वासन पर मृतक के शव का अंतिम संस्कार किया गया।

उल्लेखनीय है कि बीते दिवस थाना क्षेत्र के गांव भलवा निवासी भाजपा नेता सतीश कुमार के पिता श्याम सिंह प्रजापति पुत्र खचेडू की गला रेत कर हत्या कर दी गई थी, जिसका गर्दन कटा हुआ शव गांव से जंगल जाने वाले रास्ते पर पड़ा हुआ मिला था। सूचना के उपरांत पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया था। बृहस्पतिवार को मृतक का शव दोपहर के समय गांव पहुंचा, उससे पहले ही ग्रामीणों ने भलवा चौकी के सामने खतौली जानसठ मार्ग को जाम करते हुए प्रदर्शन किया और मृतक परिवार को ज्यादा से ज्यादा आर्थिक मदद और परिवार में से एक सरकारी नौकरी तथा गांव से अलग जगह या आवास दिलवाए जाने की मांग रखी। मौके पर पहुंचे एसडीएम खतौली इंद्रकांत द्विवेदी, एसपी देहात अतुल कुमार श्रीवास्तव, पुलिस क्षेत्राधिकारी जानसठ शकील अहमद एवं पुलिस क्षेत्राधिकारी भोपा गिरजा शंकर त्रिपाठी, थाना प्रभारी डीके त्यागी सहित कई थानों की पुलिस मौके पर पहुंची और स्थिति को संभाला, उसके बाद ग्रामीणों द्वारा शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया। सुरक्षा की दृष्टि से गांव में पुलिस बल तैनात किया गया है। इस घटना को लेकर गांव में तनाव की स्थिति बनी हुई है।
स्वतंत्र प्रभार राज्यमंत्री भी पहुंचे घटनास्थल पर और दी परिवार को सांत्वना:
भाजपा कार्यकर्ताओं सहित स्वतंत्र प्रभार राज्यमंत्री कपिल देव अग्रवाल भी मौके पर पहुंचे और लोगों को शांत कराया। ग्रामीणों ने राज्यमंत्री कपिल देव अग्रवाल से 3 सूत्री मांग रखी और कहा कि जब तक हम धरने से नहीं उठेंगे, जब तक हमारी मांगे नहीं मानी जाएगी, तब तक अंतिम संस्कार नहीं किया जाएगा। तत्पश्चात राज्यमंत्री ने उनकी मांगों को लेकर आश्वस्त करते हुए कहा कि सरकार से किसान दुर्घटना बीमा या बटाईदार की हैसियत से 5 लाख रुपए की आर्थिक सहायता दिलाई जाएगी और गांव में वर्तमान स्थिति से अलग अपने समुदाय के आसपास कहीं उनको आवासीय भूमि दिलवाई जाएगी। इस संबंध में हल्का लेखपाल से भी मंत्री ने बात की और 3 सूत्रीय मांग के लिए उन्होंने कोई नौकरी उनको देने का भी आश्वासन दिया। तब लोग शांत हुए और धरने से उठे। इस दौरान मंत्री ने बताया कि गत दिवस यहां पर श्याम सिंह की हत्या गला रेत कर कर दी गई थी, जो कि बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है और हम इसकी कड़े शब्दों में निंदा करते हैं। उन्होंने बताया कि कुछ आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और उन पर रासुका लगायी जायेगी। मृतक के परिजनों को हर हाल में न्याय दिलाया जाएगा।
हत्या के बारे में फैली हैं अलग-अलग चर्चाएं: इस संबंध में जब अलग-अलग ग्रामीणों से वार्ता की गई और मृतक के बारे में जानकारी ली गयी, तो ग्रामीणों ने बताया कि मृतक का किसी के भी साथ कोई विवाद नहीं रहा। मृतक के पुत्र का बिजली का केबल डालने को विवाद हुआ था।

From around the web