विपक्ष के हंगामे के बाद लोकसभा की कार्रवाई दो बजे तक के लिए स्थगित

 
1
नयी दिल्ली। विभिन्न मुद्दों पर विपक्षी दलों के हँगामे के कारण आज लोकसभा में प्रश्नकाल बाधित रहा और कार्यवाही दोपहर बाद दो बजे तक लिए स्थगित कर दी गई।

सुबह 11 बजे जैसे ही सदन की कार्यवाही शुरू हुई कांग्रेस तथा कुछ अन्य विपक्षी दलों के सदस्य अपनी सीटों पर खड़े होकर नारेबाजी करने लगे। वे जासूसी के कथित आरोपों, महँगाई, किसानों से जुड़े मसलों तथा अन्य मुद्दों को लेकर हँगामा कर रहे थे। अध्यक्ष ओम बिरला ने विपक्षी सदस्यों से शांति बनाये रखने की अपील की और प्रश्नकाल की कार्यवाही शुरू की।

कृषि एवं कृषक कल्याण राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने शोर-शराबे के बीच ही आधुनिक कृषि से संबंधित एक प्रश्न का उत्तर दिया। इस बीच विपक्ष के कुछ सदस्य हाथों में तख्तियाँ लिए सदन के बीचो-बीच आ गये। श्री बिरला ने एक बार फिर उनसे शांति बनाये रखने की अपील की। उन्होंने कहा कि सदन में तख्तियाँ लाना नियम-प्रक्रिया के अधीन नहीं है। कृपया सदस्य नारेबाजी और तख्तियाँ दिखाना बंद करें। उन्होंने कहा “आप जिस भी मुद्दे पर चर्चा करना चाहते हैं, सरकार चर्चा के लिए तैयार है।” लेकिन जब विपक्षी सदस्यों पर उनकी अपील का कोई असर नहीं हुआ तो सुबह 11.30 बजे उन्होंने सदन की कार्यवाही दोपहर बाद दो बजे तक के लिए स्थगित कर दी।

From around the web