यूपी विधानसभा चुनाव के प्रचार के लिए भाजपा ने की मैराथन बैठक

 
1

नई दिल्ली  भारतीय जनता पार्टी ने 2022 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों के लिए यहां एक महत्वपूर्ण बैठक की है। जिसमें कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं। सोमवार को आधी रात तक सात घंटे लंबी चली इस बैठक की अध्यक्षता भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने की।
भाजपा के एक नेता ने कहा कि पार्टी लोगों को उत्तर प्रदेश और केंद्र सरकार की उपलब्धियों से अवगत कराएगी। इस बात पर भी चर्चा हुई कि पार्टी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की लोकप्रियता का अधिकतम लाभ कैसे उठा सकती है।
बैठक में राम मंदिर निर्माण पर भी चर्चा हुई और चूंकि यह पार्टी की एक "बड़ी उपलब्धि" है, इसलिए तय किया गया कि इससे जुड़ी सभी सूचनाओं से मतदाताओं को अवगत कराया जाएगा। राज्य में चुनाव प्रचार के संबंध में विस्तृत प्रस्तुति भी दी गई। प्रस्तुति में राज्य सरकार की उपलब्धियों पर प्रकाश डालने वाले विज्ञापन दिखाए गए।
यह भी निर्णय लिया गया कि राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति में सुधार के लिए योगी सरकार की पहल को प्रमुख उपलब्धियों में से एक के रूप में उजागर किया जाएगा।
बैठक में पार्टी के राष्ट्रीय संगठन महासचिव बी.एल. संतोष, चुनाव प्रभारी केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, प्रदेश प्रभारी राधा मोहन सिंह के अलावा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और प्रदेश संगठन महासचिव सुनील बंसल मौजूद थे। पार्टी की योजना अगले 100 दिनों में विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से समाज के सभी वर्गों, जातियों और समूहों तक पहुंचने की है। इसके लिए अगले 100 दिनों में 100 कार्यक्रमों की योजना बनाई गई है। 2017 के विधानसभा चुनावों में करीब 3.59 करोड़ वोट पाकर अपने सहयोगियों के साथ 325 सीटें जीतने वाली बीजेपी ने अगले साल की शुरुआत में होने वाले राज्य चुनावों में 4 करोड़ वोट हासिल कर 350 से ज्यादा सीटें जीतने का लक्ष्य रखा है। हर बूथ पर 100 नए सदस्य बनाने का फैसला किया गया है। बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह समेत प्रमुख नेताओं के आने वाले दिनों में राज्य के दौरे पर भी चर्चा हुई। भाजपा के एक नेता ने कहा कि अगले सप्ताह (18 अक्टूबर) को होने वाली राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक में भी अहम फैसलों पर चर्चा की जाएगी। भाजपा नेता ने कहा कि बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मौजूद रहेंगे।

From around the web