बुल्ली बाई ऐप मामला: स्कूल, विश्वविद्यालयों की वेबसाइटों के हैकिंग का दावा

 
न

नयी दिल्ली -दिल्ली पुलिस ने शनिवार को कहा कि बुल्ली बाई एप को बनाने वाले असम के नीरज विश्नोई ने पाकिस्तान समेत भारत के स्कूलों और विश्वविद्यालयों की वेबसाइटों के हैकिंग का दावा किया है।
पुलिस उपायुक्त (इंटेलिजेंस फ्यूजन एंड स्ट्रैटेजिक ऑपरेशंस यूनिट) केपीएस मल्होत्रा ने कहा कि स्कूलों से संबंधित वेबसाइटों को हैक करने के नीरज के दावे को संबंधित व्यक्तियों से सत्यापित किया गया है।मुस्लिम महिलाओं को बदनाम करने वाले बुल्ली बाई ऐप के मामले में गुरुवार को गिरफ्तार नीरज ने कहा कि वह सोशल मीडिया अकाउंट के पीछे असली मास्टरमाइंड है, जिसने अवैध रूप से महिलाओं की तस्वीरें यह दिखाने के लिए डाली थीं कि वे नीलामी के लिए थीं।
श्री मल्होत्रा ने कहा कि नीरज जांच और पूछताछ में पुलिस का सहयोग नहीं कर रहा है तथा उसने दो बार खुद को नुकसान पहुंचाने की भी कोशिश की और आत्महत्या करने की धमकी दी।
पुलिस के अनुसार, वह ट्विटर हैंडल सुली डील के निर्माता के भी संपर्क में था, जिसने गिटहब पर इसका ऐप बनाया था और इसका प्रचार भी किया था। दिल्ली के किशनगढ़ पुलिस स्टेशन में दर्ज प्राथमिकी में उनके द्वारा इस्तेमाल किए गए एक ट्विटर अकाउंट की संलिप्तता से उनके दावे की पुष्टि हुई है।

From around the web