डल झील पर पहली बार लड़ाकू विमान 26 सितंबर को दिखाएंगे हवाई करतब

 
1

नई दिल्ली। आतंक के खौफ से कभी खामोश नजर आने वाली श्रीनगर की मशहूर डल झील अब 26 सितंबर को एक अलग ही नजारा पेश करेगी। भारतीय वायु सेना पहली बार श्रीनगर की डल झील के ऊपर एयर शो आयोजित करने जा रही है जिसमें मिग-21 और सुखोई-30 घाटी के युवकों को उड्डयन क्षेत्र और वायु सेना प्रति आकर्षित करने के लिए करतब दिखाएंगे। इस शो में 3,000 से अधिक स्कूली बच्चे और कॉलेज के छात्र शामिल होंगे।

फुल ड्रेस रिहर्सल 25 सितंबर को होगी

एयर शो को 'फ्रीडम फेस्टिवल' नाम दिया गया है। इसमें डल झील के ऊपर आसमान में सूर्य किरण विमानों के साथ मिग-21 बाइसन और सुखोई-30 लड़ाकू विमानों का फ्लाईपास्ट होगा। इसके अलावा पैरामोटर, पावर्ड हैंड-ग्लाइडर और गैलेक्सी स्काई डाइविंग टीम का प्रदर्शन भी शो का आकर्षण होगा। कश्मीर संभागीय आयुक्त पांडुरंग के पोल ने कहा कि इस आयोजन के लिए सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए हैं। उन्होंने कहा कि जनजातीय कार्य विभाग 30 से 40 युवाओं को शॉर्टलिस्ट करेगा। चयनित युवाओं को नि:शुल्क पायलट प्रशिक्षण दिया जाएगा। 25 सितंबर को फुल ड्रेस रिहर्सल होगी।

अशांत स्थिति के चलते ऐसे शो कभी नहीं हुए

इस शो में केंद्र शासित प्रदेश के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा के साथ-साथ पश्चिमी वायु कमान के एओसी-इन-सी एयर मार्शल बीआर कृष्णा सहित 4000 से अधिक लोग शामिल होंगे। इसके अलावा श्रीनगर और आसपास के इलाकों के 3000 स्कूली बच्चे भी एयर शो में शामिल होंगे। इससे पहले 2008 में भारतीय वायु सेना ने एक शो का आयोजन किया गया था लेकिन इसके बाद घाटी में लगातार अशांत स्थिति के चलते ऐसा कोई शो आयोजित नहीं किया गया। हालांकि राज्य सरकारों ने भी युवाओं को एविएशन सेक्टर से जोड़ने के लिए ऐसा कोई प्रयास नहीं किया था।

शो में 3,000 छात्र भी रहेंगे मौजूद

कश्मीर के संभागीय आयुक्त पांडुरंग के पोल ने कहा कि केंद्र शासित प्रदेश में एयर शो का मुख्य उद्देश्य घाटी के युवाओं को भारतीय वायु सेना में शामिल होने और क्षेत्र में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए प्रेरित करना है। यह शो छात्रों में अपने सपनों को पंख देने का जुनून भी विकसित करेगा। कार्यक्रम स्थल पर 3,000 छात्रों के साथ 700 शिक्षक भी मौजूद रहेंगे। अधिकारियों के अनुसार डल झील के ऊपर होने वाला एयर शो जम्मू-कश्मीर के युवाओं को भारतीय वायुसेना में शामिल होने के लिए प्रेरित करने में मदद करेगा। अधिकारियों ने कहा कि इस शो में 3,000 से अधिक स्कूली बच्चे और कॉलेज के छात्र शामिल होंगे। छात्रों को भारतीय वायुसेना की उपलब्धियों, बल में रोजगार के अवसरों, भर्ती नियमों और पात्रता मानदंडों से परिचित कराया जाएगा।

एयर शो 'आजादी का अमृत महोत्सव' समारोह का हिस्सा

कश्मीर के संभागीय आयुक्त पोल ने मंगलवार को विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों के प्राचार्यों के साथ एयर शो में छात्रों की भागीदारी के संबंध में एक बैठक की। उन्होंने शिक्षण संस्थानों के प्रमुखों को एनसीसी कैडेटों की भागीदारी सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। यह एयर शो 'आजादी का अमृत महोत्सव' समारोह के हिस्से के रूप में आयोजित किया जा रहा है। शो की थीम 'गिव विंग्स टू योर ड्रीम्स' होगी। एक आधिकारिक प्रवक्ता ने कहा कि भारतीय वायुसेना के प्रभावशाली युद्धाभ्यास को देखने के लिए 3,000 से अधिक कॉलेज और स्कूली छात्रों के कार्यक्रम में भाग लेने की उम्मीद है, जो उन्हें भारतीय वायुसेना और विमानन क्षेत्र में करियर के बारे में सपने देखने के लिए प्रेरित करेगा।

From around the web