प्रधानमंत्री 12 जनवरी को 25वें राष्ट्रीय युवा महोत्सव का करेंगे उद्घाटन

 
ि

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी बुधवार को सुबह 11 बजे पुडुचेरी में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से 25वें राष्ट्रीय युवा महोत्सव का उद्घाटन करेंगे। प्रधानमंत्री ने युवाओं से कार्यक्रम के लिये अपने विचार साझा करने का आह्वान किया है। स्वामी विवेकानंद की जयंती के मद्देनजर इस दिन को राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में मनाया जाता है।

प्रधानमंत्री मोदी ने सोमवार को ट्वीट कर कहा, “12 तारीख को मैं 25वें राष्ट्रीय युवा महोत्सव में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से भाग लूंगा। अपने युवा मित्रों को कार्यक्रम में शामिल होने के लिए आमंत्रित करने के साथ ही उनसे भी अपने विचार साझा करने का आग्रह करता हूं। भारत के प्रतिभाशाली युवाओं से सुनकर हमेशा खुशी होती है।”

प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) के अनुसार, राष्ट्रीय युवा महोत्सव का उद्देश्य भारत के युवाओं के मस्तिष्क को आकार देना और उन्हें राष्ट्र निर्माण के लिए एक संयुक्त शक्ति में बदलना है। यह सामाजिक एकता और बौद्धिक और सांस्कृतिक एकीकरण में सबसे बड़े अभ्यासों में से एक है। इसका उद्देश्य भारत की विविध संस्कृतियों को एक साथ लाना और उन्हें 'एक भारत, श्रेष्ठ भारत' के एक संयुक्त सूत्र में एकीकृत करना है।

इस वर्ष कोरोना के बढ़ते मामलों के कारण महोत्सव का आयोजन वर्चुअल माध्यम से 12-13 जनवरी तक होगा। उद्घाटन के बाद राष्ट्रीय युवा शिखर सम्मेलन में चार विषयों पर पैनल चर्चा होगी। महोत्सव के दौरान प्रतिभागियों को पुडुचेरी, ऑरोविले, इमर्सिव सिटी एक्सपीरियंस, स्वदेशी खेल खेल और लोक नृत्य आदि के रिकॉर्ड किए गए वीडियो कैप्सूल दिखाए जाएंगे। शाम को लाइव प्रदर्शन के बाद ओलंपियन और पैरालिंपियन के साथ खुली चर्चा भी होगी। सुबह वर्चुअल योग सत्र का आयोजन किया जाएगा।

कार्यक्रम के दौरान, प्रधानमंत्री “मेरे सपनों का भारत” और “भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के अनसंग नायकों” पर चयनित निबंधों का अनावरण करेंगे। इन निबंधों को दो विषयों पर एक लाख से अधिक युवाओं द्वारा प्रस्तुतियां से चुना गया है।

प्रधानमंत्री लगभग 122 करोड़ रुपये के निवेश से पुडुचेरी में स्थापित एमएसएमई मंत्रालय के एक प्रौद्योगिकी केंद्र का भी उद्घाटन करेंगे। इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम डिजाइन एंड मैन्युफैक्चरिंग (ईएसडीएम) सेक्टर पर फोकस के साथ यह टेक्नोलॉजी सेंटर नवीनतम तकनीक से लैस होगा। यह युवाओं को कुशल बनाने में योगदान देगा और प्रति वर्ष लगभग 6400 प्रशिक्षुओं को प्रशिक्षित करने में सक्षम होगा।

प्रधानमंत्री लगभग 23 करोड़ रुपये की लागत से पुडुचेरी सरकार द्वारा निर्मित ओपन एयर थिएटर के साथ एक सभागार - पेरुन्थालाइवर कामराजर मणिमंडपम का भी उद्घाटन करेंगे। यह मुख्य रूप से शैक्षिक उद्देश्यों के लिए उपयोग किया जाएगा और इसमें 1000 से अधिक लोग बैठ सकते हैं।

From around the web