समाचार प्रतिष्ठानों पर छापे प्रेस की आज़ादी पर हमला: कांग्रेस

 
न

नयी दिल्ली, -कांग्रेस ने एक हिंदी दैनिक तथा उत्तर प्रदेश के एक टीवी चैनल के दफ्तरों में आयकर छापेमारी को अभिव्यक्ति की आजादी पर हमला बताया और कहा कि सरकार अपनी नाकामी छुपाने के लिए छापेमारी के जरिए प्रेस की घेराबंदी कर रही है।

कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने गुरुवार को यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि सरकार ने उसकी नीतियों के खिलाफ समाचार छापने पर हिंदी दैनिक भास्कर के कई कार्यालयों पर छापेमारी की है। उनका कहना था कि इस अखबार ने कोरोना की दूसरी लहर के दौरान गंगा में शवों के तैरने जैसे कई मुद्दों पर लेख लिखे। यह इतना वीभत्स चित्रण था कि न्यूयॉर्क टाइम्स जैसे विदेशी अखबारों ने भी उसके लेक्जॉन को अपने यहां प्रकाशित किया।

उन्होंने कहा कि इसी तरह से  उत्तर प्रदेश के एक चैनल भारत समाचार  के दफ़्तर में भी आयकर को लेकर छापेमारी की गई। यह चैनल भी सरकार की नीतियों के खिलाफ आवाज उठा रहा था और उसकी आवाज दबाने के लिए उसके दफ्तरों में छापेमारी की गई।

प्रवक्ता ने कहा कि यह पहली बार नहीं हो रहा है, जब इस सरकार ने प्रेस की आज़ादी पर हमला किया है। जून 2017 में भी इसी तरह से एक राष्ट्रीय टीवी चैनल के ठिकानों पर छापेमारी की गई थी। उन्होंने कहा कि यह छापेमारी अभिव्यक्ति की आजादी पर सुनियोजित हमला है और कांग्रेस इसकी निंदा करती है।

From around the web