Thursday, June 13, 2024

केवल पांच राउंड में ही संजीव बालियान ने ली थी लीड़, हरेन्द्र मलिक रहे लगातार हावी

मुजफ्फरनगर। मुजफ्फरनगर लोकसभा के लिये आज सुबह मंडी समिति परिसर में प्रारंभ हुई मतगणना में बैलेट पेपर की गिनती होने के पश्चात ईवीएम की गिनती 9 बजे से पहले ही शुरू हो गई थी। पहला राउंड लगभग 9.30 बजे आया, तो उसमें डा. संजीव बालियान ने 1688 मतों से लीड़ ले ली थी। दूसरे राउंड में भी संजीव बालियान को लीड मिली, लेकिन फर हरेन्द्र मलिक आगे बढते चले गये।

 

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

 

10.30 बजे हरेन्द्र मलिक ने 1641 वोटो की लीड़ लेकर फिर संजीव बालियान को पीछे छोड़ दिया, इसके बाद लगभग 11 बजे सपा प्रत्याशी हरेन्द्र मलिक 13598 वोटों की बडी लीड़ लेकर आगे बढते चले गये। इसके बाद 22 राउंड तक हरेन्द्र मलिक आगे रहे। 23, 24 व 25 राउंड में संजीव बालियान ने लीड़ को बराबर किया और एक हजार से भी कम की लीड़ ली, जिससे उनके समर्थकों में भी खुशी की लहर दौड़ गई, लेकिन यह खुशी ज्यादा देर तक नहीं टिक पाई और 25वां राउंड पूरा हेाते ही हरेन्द्र मलिक ने बडी लीड ले ली। 26वें राउंड में हरेन्द्र मलिक की जीत और संजीव बालियान की हार सुनिश्चित हो गई थी।

 

 

 

लगभग 26 हजार की लीड़ होते ही संजीव बालियान अपनी हार मानकर मतगणना स्थल से चले गये और सपा प्रत्याशी हरेन्द्र मलिक के समर्थक खुशी में नाचने लगे। 27 राउंड की मतगणना पूरी होने के बाद सपा प्रत्याशी हरेन्द्र मलिक 469804 मत लेकर जीत गये। उन्होंने भाजपा प्रत्याशी डा. संजीव बालियान को 25,989 मतों से पराजित किया। डा. संजीव बालियान को 443815 मत मिले, जबकि बसपा प्रत्याशी दारा सिंह प्रजापति 143323 मत लेकर तीसरे स्थान पर रहे। मतगणना के दौरान एक समय ऐसा भी आया, जब भाजपा प्रत्याशी के समर्थक यह मानकर चलने लगे कि मंडी-गांधी कालोनी की वोट खुलते ही लीड़ बराबर कर संजीव बालियान जीत जायेंगे, लेकिन जैसे ही शहर से लगे गांवों के बूथ खुले, तो हरेन्द्र मलिक को बम्पर वोट मिले। इससे यह बात भी स्पष्ट हो गई कि भाजपा अभी भी शहरी क्षेत्रो की पार्टी है और देहात में उसका वह प्रभाव नहीं है, जो सपा का है।

 

 

मुजफ्फरनगर लोकसभा के अन्तर्गत आने वाली पांचों विधानसभाओं में शहर व खतौली विधानसभा से ही संजीव बालियान जीते है, जबकि बुढाना, चरथावल व सरधना में सपा प्रत्याशी हरेन्द्र मलिक को बम्पर वोट मिले है। ठाकुर व त्यागी बिरादरी की नाराजगी भी संजीव बालियान को भारी पड़ी और सपा प्रत्याशी पर दोनों बिरादरियों ने अपना विश्वास जताया। सरधना में पूर्व विधायक ठाकुर संगीत सोम से हुआ टकराव भी संजीव बालियान के लिये नुकसानदेह साबित हुआ। पिछले विधानसभा चुनाव में ठाकुर संगीत सोम की हार के लिये ठाकुर बिरादरी नेे डा. संजीव बालियान को ही जिम्मेदार बताया था।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,188FansLike
5,329FollowersFollow
58,054SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय