भारत ने न्यूज़ीलैंड को हराया,  3-0 से किया क्लीन स्वीप

 
न

कोलकाता, - कप्तान रोहित शर्मा (56) के शानदार अर्धशतक और लेफ्ट आर्म स्पिनर अक्षर पटेल (नौ रन पर तीन विकेट) की घातक गेंदबाजी तथा हर्षल पटेल (18 और 26 रन पर दो विकेट) के हरफनमौला खेल की बदौलत भारत ने न्यूज़ीलैंड को तीसरे और अंतिम टी 20 क्रिकेट मैच में रविवार को 73 रन से पराजित कर तीन मैचों की सीरीज को 3-0 से क्लीन स्वीप कर लिया।

भारतीय टीम तूफानी शुरुआत और अंतिम ओवरों में जोरदार प्रहारों की बदौलत निर्धारित 20 ओवरों में सात विकेट पर 184 रन का मजबूत स्कोर बनाया और न्यूज़ीलैंड को 17.2 ओवर में 111 रन पर ढेर कर सीरीज को क्लीन स्वीप किया और मेहमान टीम से विश्व कप के ग्रुप मैच में मिली हार का बदला चुका लिया।

भारत के कप्तान रोहित शर्मा ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। भारत लोकेश राहुल और रविचंद्रन अश्विन को आराम देकर इशान किशन और युज़वेंद्र चहल को टीम में लाये। भारत को रोहित और किशन ने तूफानी शुरुआत दी और पहले छह ओवर में 69 रन ठोक डाले। रोहित और किशन दोनों ने ही इस दौरान जमकर शॉट लगाए। रोहित ने 56 रन की अपनी पारी का तीसरा छक्का लगाते हुए टी 20 में अपने 150 छक्के पूरे किये।

भारत को पहला झटका लेफ्ट आर्म स्पिनर मिशेल सेंटनर ने सातवें ओवर में किशन को आउट कर दिया। किशन ने 21 गेंदों पर 29 रन में सात चौके लगाए। सेंटनर ने इस ओवर की आखिरी गेंद पर सूर्यकुमार यादव को भी पवेलियन का रास्ता दिखा दिया। सूर्य लगातार दूसरे मैच में सस्ते में आउट हुए। ऋषभ पंत छह गेंदों में चार रन बनाकर सेंटनर के दूसरे और पारी के नौंवें ओवर की आखिरी गेंद पर आउट हुए। पंत का विकेट 83 के स्कोर पर गिरा।

कप्तान रोहित ने चौका मारकर अपना अर्धशतक पूरा किया लेकिन फिर वह लेग स्पिनर ईश सोढी को रिटर्न कैच दे बैठे। रोहित ने आगे निकलकर जोरदार शॉट लगाया लेकिन गेंद सोढी के दाएं हाथ में जाकर जैसे चिपक गयी। रोहित अपना 26वां अर्धशतक बनाने के बाद आउट हुए। उन्होंने 31 गेंदों पर 56 रन में पांच चौके और तीन छक्के लगाए। रोहित का विकेट 103 के स्कोर पर गिरा।

श्रेयस अय्यर और वेंकटेश अय्यर ने पांचवें विकेट के लिए 36 रन जोड़े लेकिन इसके बाद एक रन के अंतराल में दोनों बल्लेबाज आउट हुए। वेंकटेश को ट्रेंट बोल्ट ने चैपमैन के हाथों कैच कराया जबकि श्रेयस को एडम मिल्ने ने आउट किया। वेंकटेश ने 15 गेंदों में एक चौके और एक छक्के की मदद से 20 रन बनाये जबकि श्रेयस ने 20 गेंदों में दो चौकों के सहारे 25 रन बनाये। हर्षल पटेल ने 11 गेंदों में दो चौकों और एक छक्के की मदद से 18 रन बनाये। अक्षर पटेल दो रन पर नाबाद रहे जबकि दीपक चाहर ने आठ गेंदों में दो चौकों और एक छक्के की मदद से नाबाद 21 रन बनाये। भारत की पारी 184 रन के मजबूत स्कोर पर जाकर थमी।

न्यूज़ीलैंड की तरफ से कप्तानी संभाल रहे सेंटनेर 27 रन पर तीन विकेट लेकर सबसे सफल गेंदबाज रहे।

भारत के कप्तान रोहित शर्मा ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। भारत लोकेश राहुल और रविचंद्रन अश्विन को आराम देकर इशान किशन और युज़वेंद्र चहल को टीम में लाये। भारत को रोहित और किशन ने तूफानी शुरुआत दी और पहले छह ओवर में 69 रन ठोक डाले। रोहित और किशन दोनों ने ही इस दौरान जमकर शॉट लगाए। रोहित ने 56 रन की अपनी पारी का तीसरा छक्का लगाते हुए टी 20 में अपने 150 छक्के पूरे किये।
भारत को पहला झटका लेफ्ट आर्म स्पिनर मिशेल सेंटनर ने सातवें ओवर में किशन को आउट कर दिया। किशन ने 21 गेंदों पर 29 रन में सात चौके लगाए। सेंटनर ने इस ओवर की आखिरी गेंद पर सूर्यकुमार यादव को भी पवेलियन का रास्ता दिखा दिया। सूर्य लगातार दूसरे मैच में सस्ते में आउट हुए। ऋषभ पंत छह गेंदों में चार रन बनाकर सेंटनर के दूसरे और पारी के नौंवें ओवर की आखिरी गेंद पर आउट हुए। पंत का विकेट 83 के स्कोर पर गिरा।
कप्तान रोहित ने चौका मारकर अपना अर्धशतक पूरा किया लेकिन फिर वह लेग स्पिनर ईश सोढी को रिटर्न कैच दे बैठे। रोहित ने आगे निकलकर जोरदार शॉट लगाया लेकिन गेंद सोढी के दाएं हाथ में जाकर जैसे चिपक गयी। रोहित अपना 26वां अर्धशतक बनाने के बाद आउट हुए। उन्होंने 31 गेंदों पर 56 रन में पांच चौके और तीन छक्के लगाए। रोहित का विकेट 103 के स्कोर पर गिरा।
श्रेयस अय्यर और वेंकटेश अय्यर ने पांचवें विकेट के लिए 36 रन जोड़े लेकिन इसके बाद एक रन के अंतराल में दोनों बल्लेबाज आउट हुए। वेंकटेश को ट्रेंट बोल्ट ने चैपमैन के हाथों कैच कराया जबकि श्रेयस को एडम मिल्ने ने आउट किया। वेंकटेश ने 15 गेंदों में एक चौके और एक छक्के की मदद से 20 रन बनाये जबकि श्रेयस ने 20 गेंदों में दो चौकों के सहारे 25 रन बनाये। हर्षल पटेल ने 11 गेंदों में दो चौकों और एक छक्के की मदद से 18 रन बनाये। अक्षर पटेल दो रन पर नाबाद रहे जबकि दीपक चाहर ने आठ गेंदों में दो चौकों और एक छक्के की मदद से नाबाद 21 रन बनाये। भारत की पारी 184 रन के मजबूत स्कोर पर जाकर थमी।
न्यूज़ीलैंड की तरफ से कप्तानी संभाल रहे सेंटनेर 27 रन पर तीन विकेट लेकर सबसे सफल गेंदबाज रहे।

न्यूज़ीलैंड की टीम 111 रन पर ढेर होकर अपनी रनों के लिहाज से चौथी सबसे बड़ी पराजय झेलने को मजबूर हुई। भारत ने अपनी छठी क्लीन स्वीप हासिल की और सबसे ज्यादा क्लीन स्वीप करने में पाकिस्तान की बराबरी कर ली। भारत की द्विपक्षीय सीरीज में न्यूज़ीलैंड के खिलाफ यह आठवीं जीत है और उसकी मेहमान टीम के खिलाफ यह लगातार दूसरी सीरीज जीत है। भारत ने 2020 के न्यूज़ीलैंड दौरे में 5-0 से जीत हासिल की थी।

लेफ्ट आर्म स्पिनर अक्षर पटेल ने पहले पांच ओवरों में तीन विकेट निकालकर न्यूज़ीलैंड की बल्लेबाजी की ऐसी कमर तोड़ी कि वह अंत तक उबर नहीं पायी। केवल मार्टिन गुप्तिल ने अपनी फॉर्म कायम रखते हुए 36 गेंदों में चार चौकों और चार छक्कों की मदद से 51 रन की पारी खेली लेकिन उनके टीम के 69 रन के स्कोर पर आउट हो जाने के बाद न्यूज़ीलैंड की अंतिम उम्मीद भी टूट गयी। गुप्तिल को लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल ने सूर्यकुमार यादव के हाथों कैच कराया। टिम सिफर्ट 18 गेंदों में 17 रन बनाकर रन आउट हो गए।

लोकी फर्ग्युसन ने आठ गेंदों में दो छक्कों की मदद से 14 रन बनाये। भारत की तरफ से अक्षर पटेल के तीन विकेटों के अलावा हर्षल पटेल ने 26 रन पर दो विकेट लिए जबकि दीपक चाहर, चहल और वेंकटेशअय्यर को एक-एक विकेट मिला। अक्षर पटेल को उनकी गेंदबाजी के लिए प्लेयर ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला जबकि कप्तान रोहित शर्मा को प्लेयर ऑफ द सीरीज का पुरस्कार मिला।

न्यूज़ीलैंड की टीम 111 रन पर ढेर होकर अपनी रनों के लिहाज से चौथी सबसे बड़ी पराजय झेलने को मजबूर हुई। भारत ने अपनी छठी क्लीन स्वीप हासिल की और सबसे ज्यादा क्लीन स्वीप करने में पाकिस्तान की बराबरी कर ली। भारत की द्विपक्षीय सीरीज में न्यूज़ीलैंड के खिलाफ यह आठवीं जीत है और उसकी मेहमान टीम के खिलाफ यह लगातार दूसरी सीरीज जीत है। भारत ने 2020 के न्यूज़ीलैंड दौरे में 5-0 से जीत हासिल की थी।
लेफ्ट आर्म स्पिनर अक्षर पटेल ने पहले पांच ओवरों में तीन विकेट निकालकर न्यूज़ीलैंड की बल्लेबाजी की ऐसी कमर तोड़ी कि वह अंत तक उबर नहीं पायी। केवल मार्टिन गुप्तिल ने अपनी फॉर्म कायम रखते हुए 36 गेंदों में चार चौकों और चार छक्कों की मदद से 51 रन की पारी खेली लेकिन उनके टीम के 69 रन के स्कोर पर आउट हो जाने के बाद न्यूज़ीलैंड की अंतिम उम्मीद भी टूट गयी। गुप्तिल को लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल ने सूर्यकुमार यादव के हाथों कैच कराया। टिम सिफर्ट 18 गेंदों में 17 रन बनाकर रन आउट हो गए।
लोकी फर्ग्युसन ने आठ गेंदों में दो छक्कों की मदद से 14 रन बनाये। भारत की तरफ से अक्षर पटेल के तीन विकेटों के अलावा हर्षल पटेल ने 26 रन पर दो विकेट लिए जबकि दीपक चाहर, चहल और वेंकटेशअय्यर को एक-एक विकेट मिला। अक्षर पटेल को उनकी गेंदबाजी के लिए प्लेयर ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला जबकि कप्तान रोहित शर्मा को प्लेयर ऑफ द सीरीज का पुरस्कार मिला।

From around the web