मथुरा में लाल सूटकेस में मिली लड़की की हुई शिनाख्त, दिल्ली की रहने वाली थी युवती, ऑनर किलिंग की आशंका

 
म

मथुरा। मथुरा में बीते कल लाल सूटकेस में मिली 22 साल की लड़की पुलिस ने शिनाख्त कर लदी है।  परिजनों ने पुलिस के साथ पोस्टमॉर्टम हाउस पहुंचकर उसकी लाश की पहचान की। उसकी ऑनर किलिंग की संभावना जताई जा रही है। लड़की दिल्ली के बदरपुर के मोड़बंद के रहने वाली है। उसकी हत्या करने के बाद राया क्षेत्र के एक्सप्रेस-वे पर फेंका गया था। इस मामले में पुलिस की 4 टीमें शिनाख्त के प्रयास में जुटी हुई थी। घटना स्थल से लेकर टोल प्लाजा तक लगे CCTV की रिकॉर्डिंग खंगाली गई। पुलिस को रविवार को कामयाबी मिली।

जानकारी के मुताबिक पुलिस की टीम ने सबसे पहले टोल प्लाजा पर लगे CCTV कैमरों को खंगाला। मगर, टोल प्लाजा पर CCTV कैमरों में कोई ऐसी कार नजर नहीं आई जो संदिग्ध हो। पुलिस ने वृंदावन कट पर पेट्रोल पंप, फूड प्लाजा पर लगे CCTV कैमरों की रिकॉर्डिंग चेक की। वहां भी पुलिस को कुछ नहीं मिला। युवती के शव मिलने के बाद से पुलिस की 4 टीम वारदात के खुलासे का प्रयास कर रही हैं। पुलिस की टीम अलीगढ़, आगरा, हाथरस और नोएडा तक गईं। मगर, कहीं से कोई सफलता हाथ नहीं लगी। पुलिस इन जिलों के अलावा दिल्ली, NCR के साथ-साथ इटावा,कानपुर सहित अन्य जिलों में भी युवती की शिनाख्त करने के प्रयास कर रही हैं।

मथुरा के थाना राया क्षेत्र में वृंदावन कट और राया कट के बीच यमुना एक्सप्रेस वे के सर्विस रोड पर शुक्रवार की दोपहर को युवती का लाल रंग के ट्रॉली बैग सूटकेस में शव मिला था। शव को पहले पालिथीन में पैक किया और फिर हाथ पैर मोड़कर सूटकेस में बंद कर दिया। शव मिलने की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

युवती का शव मिलने की सूचना पर कानपुर देहात और अलीगढ़ से दो परिवार शिनाख्त के लिए मथुरा पहुंचे थे। मगर, युवती की फोटो देखकर पता चला कि वह शव किसी और युवती का है। कानपुर देहात के एक गांव से 16 वर्ष की युवती गायब है तो इसी तरह अलीगढ़ से भी इसी उम्र की युवती गायब है।

From around the web