हाथरस:बुझ गया घर का चिराग, विधवा मां और बहनों से छिना इकलौता सहारा

 
tr

हाथरस। सिकंदराराऊ के गांव भटपुरा में परिवार का चिराग बुझ गया। मृतक किशोर अपनी विधवा मां और दो बहनों का इकलौता सहारा था। पिता की करीब चार साल पहले बीमारी के चलते मौत हो चुकी है। मृतक किशोर मिठाई की दुकान में काम कर परिजनों का भरण-पोषण करता था।

शुक्रवार की सुबह थाना सिकंदराराऊ क्षेत्र के अलीगढ़ रोड स्थित गंगा स्वीट सेंटर के कमरे में कन्हैया यादव पुत्र स्व. निहाल सिंह(16) निवासी भटपुरा थाना सिकंदराराऊ का शव मिला था। उसके सर में गोली लगी हुई थी। इस संबंध में पुलिस ने कार्यवाही शुरू कर दी है।

मृतक किशोर घर का इकलौता बेटा था। उसके पिता की करीब चार साल पहले बीमारी के चलते मौत हो चुकी है। हालात ने कन्हैया को कम उम्र में जिम्मेदार बना दिया। उसने मिठाई की दुकान में काम करने का फैसला किया। जिसके एवज में मिलने वाले रुपयों से वह परिवार का भरण-पोषण करता था। लेकिन, नियति को कुछ और ही मंजूर था। विधाता ने विधवा मां और दो बहनों से उनका इकलौता सहारा छीन गया। कन्हैया की मौत से उसकी मां और बहनों को गंभीर आघात लगा है। उनका रो-रोकर बुरा हाल है। घटना से आस-पड़ोस के लोग भी गमगीन हैं।

From around the web