लोकसभा उपचुनाव : रामपुर और आजमगढ़ में तीन बजे तक 35.11 प्रतिशत मतदान

 
fgd

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में रामपुर और आजमगढ़ लोकसभा सीटों पर हो रहे उपचुनाव के लिए गुरुवार सुबह सात बजे से मतदान जारी है। अपराह्न तीन बजे तक दोनों सीटों के लिए औसतन 35.11 प्रतिशत मतदान हुआ। रामपुर में मतदान का प्रतिशत 32.19 और आजमगढ़ में 37.82 फीसद रहा।

अपराह्न एक बजे तक दोनों सीटों के लिए औसतन 27.99 प्रतिशत मतदान हुआ। उस समय तक रामपुर में मतदान का प्रतिशत 26.39 और आजमगढ़ में 29.48 फीसद रहा। पूर्वाह्न 11 बजे तक दोनों सीटों के लिए औसतन 19.34 प्रतिशत मतदान हुआ। रामपुर में मतदान का प्रतिशत 18.81 और आजमगढ़ में 19.84 फीसद रहा। वहीं शुरु के दो घंटे में यानि सुबह नौ बजे तक रामपुर और आजमगढ़ में मतदान का प्रतिशत क्रमशः 7.86 और 9.21 प्रतिशत दर्ज हुआ था।

 कहीं से किसी भी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है। दोनों सीटों के लिए शाम छह बजे तक वोट डाले जाएंगे। इस उपचुनाव में कुल 35.45 लाख मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे।

भारत निर्वाचन आयोग द्वारा निष्पक्ष, सुरक्षित एवं शांतिपूर्ण मतदान के लिए व्यापक इंतजाम और सुरक्षा के कड़े प्रबंध किये गये हैं। संवेदनशील बूथों पर स्थानीय पुलिस के अलावा केंद्रीय बल भी तैनात किए गए हैं। दोनों जिलों के जिलाधिकारी और जिला पुलिस प्रमुख सुबह से ही लगातार मतदान केंद्रों का निरीक्षण कर रहे हैं।

प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी अजय कुमार शुक्ला ने बताया कि मतदान प्रक्रिया शांतिपूर्वक जारी है। मतदान केंद्रों पर निगरानी रखने के लिए दो सामान्य प्रेक्षक तथा दो व्यय प्रेक्षक तैनात किए गए हैं। इनके अतिरिक्त 291 सेक्टर मजिस्ट्रेट, 40 जोनल मजिस्ट्रेट, 10 स्टैटिक मजिस्ट्रेट तथा 433 माइक्रो पर्यवेक्षक भी तैनात किए गए हैं।

शुक्ला ने बताया कि कोरोना संक्रमण के मद्देनजर मतदान केंद्रों पर कोविड प्रोटोकॉल के तहत सुरक्षा के सभी इंतजाम किए गए हैं। उपचुनाव में कुल 4234 मतदेय स्थल और 2272 मतदान केंद्र बनाये गये हैं। उन्होंने बताया कि निष्पक्ष मतदान के लिये 75 प्रतिशत से अधिक मतदेय स्थलों पर लाइव वेबकास्टिंग की व्यवस्था की गई है।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि रामपुर लोकसभा सीट के लिए कुल छह उम्मीदवार और आजमगढ़ में एक महिला समेत कुल 13 उम्मीदवार चुनाव मैंदान में हैं।

गौरतलब है कि आजमगढ़ लोकसभा सीट से सपा मुखिया अखिलेश यादव और रामपुर सीट से सपा के ही मो. आजम खान के इस्तीफे के बाद दोनों सीटों के लिये उपचुनाव हो रहा है। दोनों सीटों पर भाजपा और सपा उम्मीदवारों के बीच सीधी लड़ाई देखी जा रही है। हालांकि, आजमगढ़ में बसपा ने लड़ाई को त्रिकोणात्मक बनाने का भरसक प्रयास किया है।

From around the web