भाजपा की तर्ज पर सपा का सदस्यता अभियान जारी, पहली बार जिला स्तरीय प्रभारी करेंगे माॅनीटरिंग

 
wdefrg

लखनऊ। अब समाजवादी पार्टी भी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नक्शे कदम पर चलने के लिए विवश है। सपा भी भाजपा की तर्ज पर अपनी सदस्यता अभियान को गति देने में जुटी हुई है। सपा ने सदस्यता अभियान को धार देने के लिए जिला स्तरीय प्रभारियों का गठन किया है। यह प्रभारी सदस्यता अभियान की मानीटरिंग करेंगे और प्रतिदिन की रिपोर्ट तैयार कर उच्च पदाधिकारियों को अवगत कराएगा। पार्टी का मानना है कि लगातार निगरानी से सदस्यता अभियान के तहत ज्यादा से ज्यादा लोग पार्टी से जुड़ेंगे और आने वाले 2024 के चुनाव में पार्टी को मजबूती मिलेगी।

उप्र में हाल में हुए विधानसभा चुनाव, उसके बाद लोकसभा उपचुनाव में हार का सामना करने और विधान परिषद चुनाव में आने वाले नतीजों को देखते हुए समाजवादी पार्टी ने आगामी चुनावों के लिए तैयारी अभी से शुरू कर दी है। सपा, पूरे प्रदेश में सदस्यता अभियान चला रही है। सदस्यता अभियान को गति देने के लिए प्रदेश के हर जिले में प्रभारियों का गठन किया है। हालांकि प्रदेश के 75 जिलोें में 72 जनपदों में ही प्रभारी गठित किये गये हैं। सपा की जारी सूची में राजधानी लखनऊ व दो अन्य जिलों में प्रभारी पार्टी को नहीं मिले हैं।

सपा प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल ने बताया कि जिला स्तरीय प्रभारियों को गठित किया गया है। इनको स्थानीय नेताओं व पदाधिकारियों को तेजी से लोगों को सदस्य बनाने की दिशा में काम करने को नसीहत दी है। उन्होंने बताया कि प्रभारियों को सक्रिय व सामान्य सदस्य बनाने का टारगेट भी दिया है। हालांकि उन्होंने टारगेट स्पष्ट नहीं किया है।

उल्लेखनीय है कि, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अपने सदस्यता अभियान में प्रभारियों का गठन कर संगठन मजबूती की लिए काम करती है। इसमें 200 सदस्य बनाने वाले को सक्रिय सदस्य की श्रेणी में रखा जाता है, वहीं 50 सदस्य बनाना अनिवार्य होता है। अब सपा भी भाजपा की तरह ही प्रभारियों को गठित कर सदस्यता अभियान को धार देने में जुट गया है।

From around the web