आजम की यूनिवर्सिटी से चोरी हुईं किताबें बरामद

 
म
रामपुर (उत्तर प्रदेश)। रामपुर पुलिस ने सपा विधायक आजम खां के नेतृत्व वाले ट्रस्ट द्वारा संचालित मोहम्मद अली जौहर विश्वविद्यालय के पुस्तकालय से चोरी हुईं किताबें बरामद की हैं। कथित तौर पर यह बरामदगी सपा विधायक अब्दुल्ला आजम के दो दोस्तों द्वारा दी गई सूचना के आधार पर की गई है। दोनों पहले ही गिरफ्तार किए जा चुके हैं। पुलिस ने पांच फीट गहरे गड्ढे में दबी एक सरकारी सफाई मशीन भी बरामद की है। पुलिस प्रवक्ता के अनुसार, 2019 में मदरसा आलिया से किताबें चोरी हो गई थीं।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (एएसपी) संसार सिंह ने संवाददाताओं को बताया कि जौहर विश्वविद्यालय से मदरसा आलिया की किताबें बरामद की गई हैं। 2019 में मदरसा आलिया से 9,633 किताबें चोरी हो गई थीं, जिनमें से छह हजार किताबें अभी तक बरामद नहीं हो पाई हैं। किताबें दीवार तोड़कर ले जाई गई थीं। चोरी की इस घटना में आजम आरोपी हैं।

जुआ खेलने के एक वायरल वीडियो के आधार पर पुलिस ने विधायक अब्दुल्ला आजम के दोस्त सलीम और अनवर को तीन दिन पहले गिरफ्तार किया था।

जौहर विश्वविद्यालय में खोदी गई नगर पालिका की सफाई मशीन करोड़ों रुपये की बताई जा रही है और इसे रामपुर नगर पालिका ने सपा सरकार के दौरान सफाई के लिए खरीदा था। वही मशीन सोमवार को खुदाई के दौरान बरामद हुई थी।

पुलिस ने इस मामले में वाकर अली खान की शिकायत के आधार पर सपा नेता आजम खां, उनके बेटे अब्दुल्ला आजम, पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष अजहर खान, सुल्तान मोहम्मद खान, अनवर हुसैन, सलीम और तालिब के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की थी।
 

From around the web