उप्र : जुलाई में 6,934 अभियोग दर्ज, 2,257 गिरफ्तार, 1.81 लाख ली. अवैध शराब पकड़ी

 
jbbj

प्रयागराज। पूरे प्रदेश में अवैध शराब के निर्माण, बिक्री एवं तस्करी के विरूद्ध कार्यवाही करते हुए माह जुलाई में 60,983 छापे मारे गये। जिसमें 6,934 मुकदमे दर्ज किये गये तथा 1.81 लाख ली. अवैध शराब बरामद की गयी। शराब बनाने के लिये तैयार किये गये 4,24,780 किग्रा लहन मौके पर नष्ट करते हुए अवैध मदिरा के कार्य में संलिप्त 2,257 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया तथा 100 वाहन जब्त किये गये।

सोमवार को यह जानकारी सेंथिल पांडियन सी, आबकारी आयुक्त, उत्तर प्रदेश ने देते हुए बताया है कि शासन के निर्देश पर अवैध शराब के निर्माण, बिक्री एवं तस्करी के विरूद्ध कार्यवाही लगातार जारी है। आबकारी आयुक्त ने बताया कि एनसीआर के जनपद बागपत में रोड चेकिंग करते हुए अवैध शराब लाने के जुर्म में 3 अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया गया। साथ ही बार्डर से अवैध मदिरा के परिवहन में प्रयुक्त एक बाइक सहित दो चारपहिया वाहन जब्त किये गये जिसमें 23 बोतल ब्लैकडाग व्हिस्की, 12 कैन किंगफिशर स्ट्रॉन्ग बियर, 12 बोतल 100 पाइपर व 8 बोतल सुला रेडवाइन बरामद करते हुए तीनों अभियुक्तों के विरूद्ध विभिन्न थानों में आबकारी अधिनियम के साथ-साथ आईपीसी की धाराओं में कठोर कार्यवाही करायी गयी।

जनपद गाजियाबाद में विभिन्न टीमों द्वारा दिल्ली बॉर्डर, खोड़ा, ट्रांसपोर्ट नगर चेक पोस्ट, लोनी-बागपत रोड एवं ईडीएम मॉल के पास देर रात्रि तक चेकिंग करते हुए अवैध शराब तस्करी करने के जुर्म में 08 अभियुक्तों को गिरफ्तार कर अवैध शराब की तस्करी में प्रयुक्त 06 दो पहिया वाहन जब्त किये गये। गिरफ्तार सभी अभियुक्तों के विरुद्ध सुसंगत धाराओं में अभियोग पंजीकृत किया गया।

जनपद आगरा में रोड चेकिंग के दौरान आबकारी एवं जीएसटी विभाग की संयुक्त टीम द्वारा एन.एच.-2 पर ग्राम सिगना कट थाना-सिकंदरा जनपद आगरा में एक ट्रक पर लदे मशीनरी के नीचे स्कीम बनाकर छिपाकर फरीदाबाद से बिहार के लिए ले जाई जा रही 450 पेटी (ब्लेंडर प्राइड/इंपीरियल ब्लू) विदेशी मदिरा फार सेल इन हरियाणा पकड़ी गई। बरामद मदिरा एवं वाहन को जब्त कर आबकारी अधिनियम की सुसंगत धाराओं में अभियोग पंजीकृत कर कार्यवाही की गयी।

आबकारी आयुक्त ने यह भी बताया कि दिल्ली एवं हरियाणा बार्डर से आने वाले संदिग्ध वाहनों को चेक प्वाइंटों पर लगातार आबकारी टीम द्वारा चौकसी बरती जा रही है। मदिरा तस्करी के अन्य रास्तों पर भी प्रभावी रोकथाम के लिये टीमें लगाई गई हैं। साथ ही प्रदेश के अन्य जनपदों में अवैध शराब के निर्माण, बिक्री के कुख्यात अड्डों तथा ईट भट्ठों एवं राष्ट्रीय-राजमार्गों एवं लिंक मार्गों पर स्थित संदिग्ध ढाबों, रेस्टोरेंट पर सतर्क दृष्टि रखी जा रही है। आबकारी दुकानों पर भी लगातार निरीक्षण कार्य जारी है।

From around the web