उप्र: पीड़ित व्यक्ति की पैरवी करने गए विहिप नेता को पुलिस ने निर्दयता पूर्वक पीटा, हालत गंभीर

 
एक

हरदोई। शाहाबाद पुलिस की पिटाई से घायल विश्व हिंदू परिषद के सह जिलामंत्री अमन सिंह हिन्दू को ट्रामा सेंटर लखनऊ में भर्ती कराया गया है। जहां उसका इलाज चल रहा है। कोतवाली शाहाबाद में दलित समुदाय की एक मामले में पैरवी करने आये विश्वहिंदू परिषद, भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच वाद विवाद इतना बढ़ गया और दोनों ओर से मारपीट हो गयी।

मारपीट में विश्व हिंदू परिषद के जिलामंत्री अमन सिंह चौहान को गम्भीर चोट आई। पुलिसिया कार्यवाही से घबराकर उसके अन्य साथी पवन रस्तोगी, अमित मिश्रा मौके से खिसक लिये। काफी देर तक कोतवाली में मचे बवाल के बाद कुछ लोगों ने बड़े नेताओं को घटना की जानकारी दी। नेता विधायक के हस्तक्षेप के बाद पुलिस घायल अमन सिंह को सीएचसी ले गयी। जहां से डाक्टरों ने उसे जिला अस्पताल रिफर कर दिया। हालत गम्भीर होने के कारण ट्रामा सेंटर लखनऊ रिफर कर दिया गया। जहां वह मौत और जिंदगी की जंग लड़ रहा है। वहीं घटना के बाबत विश्वहिंदू परिषद के जिलाध्यक्ष माहेश्वरी द्वारा घटना की निंदा करते हुए कोतवाली पुलिस को हिटलर करार दिया।

उनका कहना है कि पीड़ित दलितों के उत्पीड़न की शिकायत लेकर अमन, पवन,अमित कोतवाली गए थे। कोतवाल सुरेश कुमार मिश्र एवं अन्य पुलिस स्टाफ आदि ने मिलकर अमन को बहुत निर्दयता से मारापीटा। ऐसा सलूक तो कभी बड़े अपराधी के साथ भी नही किया जाता है। वहीं पुलिस घटना के बाद से ही बैक फुट पर नजर आ रही है। घटना के बाबत एएसपी का कहना है कि कोतवाली के बाहर दो पक्षों के बीच मारपीट हुई है जिसमे एक पक्ष पर शांति भंग के आरोप में कार्यवाही की गई है जबकि दूसरे पक्ष के एक युवक को मारपीट के दौरान गम्भीर चोट आई हैं। पुलिस द्वारा विहिप नेता अमन सिंह की पिटाई से भाजपा एवं अन्य हिंदू संगठनों में पुलिस के प्रति गहरा असंतोष व्याप्त हो गया है। क्षेत्र में तनाव को दृष्टिगत रखते हुए कई थानों की पुलिस और पी ए सी शाहाबाद में तैनात कर दी गई है।

From around the web