आगराः ऑक्सीजन की कमी से निजी अस्पताल में 22 मरीजों की मौत,जिलाधिकारी ने बैठाई जांच 

 
1

आगरा। कोरोना की दूसरी लहर अब देश में धीरे धीरे कम हो रही है, लेकिन अब भी मरीजों की ऑक्सीजन की कमी के कारण लोगों की मौत हो ही रही है। ऐसे में आगरा के एक निजी अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी के कारण 22 मरीजों की मौत का मामला सामने आया है। दरअसल निजी अस्पताल के मालिका का एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। इस वीडियो में मालिक कहता दिख रहा है कि 26 अप्रैल के दिन ऑक्सीजन की कमी के कारण केवल 5 मिनट के लिए ऑक्सीजन का सप्लाई रोका गया था। यह एक्सपेरिमेंट गंभीर मरीजों पर यह देखने के लिए किया गया कि क्या जरूरत पड़ने पर वह बिना ऑक्सीजन के जीवित रह सकते हैं। 
हालांकि इस वीडियो में 22 मरीजों की मौत की बात पर अब भी संशय बना हुआ है। इस वीडियो के सामने आने के बाद अस्पताल के मालिक अरिंजय जैन पर उंगलियां उठने लगी हैं। वहीं इस बाबत जिलाधिकारी का कहना है कि मामले की जांच वो करा रहे हैं। 22 मरीजों की मौत की बात गलत है। दरअसल वायरल वीडियों में पारस अस्पताल के संचालक यह कहते दिख रहे हैं कि ऑक्सीजन की किल्लत है इस कारण मोदीनगर से सप्लाई मंगवाई जा रही है। इसके बाद उन्होंने मरीजों के परिजनों से मरीजों को डिस्चार्ज करने की बात की लेकिन कोई भी इसके लिए राजी नहीं हुआ। 
इस कारण उन्होंने एक एक्सपेरिमेंट करने का फैसला लिया है। वीडियो में बताया गया है कि मॉकड्रिल के लिए 26 अप्रैल की सुबह 7 बजे उन्होंने 5 मिनट के लिए ऑक्सीजन की सप्लाई को रोक दिया था। इस कारण 22 मरीजों को सांस लेने में दिक्कत आने लगी औरो वे बिना ऑक्सीजन जिंदा नहीं रह सके और उनकी मौत हो गई।

From around the web