अजय मिश्रा ने उप्र के महाधिवक्ता का पदभार ग्रहण किया, न्यायमूर्ति के है बड़े भाई !

 
अजय

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के महाधिवक्ता पद पर वरिष्ठ वकील अजय कुमार मिश्रा की शनिवार को नियुक्ति किये जाने के बाद उन्होंने शनिवार को ही अपना पदभार ग्रहण कर लिया। प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने मौजूदा महाधिवक्ता राघवेन्द्र सिंह का त्यागपत्र स्वीकार करते हुए मिश्रा को इस पद पर नियुक्ति कर दिया। राज्य के मुख्य सचिव दुर्गाशंकर मिश्र की ओर से सिंह का त्यागपत्र राज्यपाल द्वारा स्वीकार किये जाने और मिश्र की नियुक्ति किये जाने की अधिसूचना जारी की गयी।

मिश्रा पिछले 10 साल से उच्चतम न्यायालय में वकालत कर रहे हैं। उन्होंने 1981 में वकालत शुरु की थी। वह 1995 में उप्र के सबसे कम उम्र केे अतिरिक्त महाधिवक्ता नियुक्त हुये थे। गौरतलब है कि उप्र के महाधिवक्ता पद पर योगी मंत्रिमंडल ने पिछले दिनों ही मिश्रा की नियुक्ति को मंजूरी प्रदान की थी।

पिछले महीने सिंह द्वारा महाधिवक्ता पद से त्यागपत्र देने के बाद से इस पद पर नियुक्ति लंबित थी। इस बीच इलाहाबाद उच्च् न्यायालय ने भी राज्य सरकार को 16 मई के पहले इस पर नियुक्ति करने का निर्देश दिया था। उनकी नियुक्ति की आज अधिसूचना जारी होने के बाद उन्होंने अपना पदभार ग्रहण कर लिया।

मूल रूप से उप्र में देवरिया जिले के रहने वाले मिश्रा उच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश श्रीरंगनाथ  मिश्र के पुत्र है और वर्तमान में न्यायमूर्ति अश्वनी कुमार मिश्र के बड़े भाई है। वह अभी तक उच्चतम न्यायालय में उत्तर प्रदेश सरकार के अपर महाधिवक्ता पद का दायित्व निभा रहे थे।

From around the web