अखिलेश किसानों के झूठे हमदर्दः सिद्धार्थनाथ सिंह

 
1
लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार के प्रवक्ता और मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव को किसानों का झूठा हमदर्द बताया है। कहा है कि इस महामारी के दौर में अखिलेश यादव किसानों का हितैषी बनने के लिए ओछी राजनीति कर रहें हैं। वे अखबारों में नाम छापने की मंशा के तहत प्रदेश सरकार पर अनाप-शनाप आरोप लगा रहे हैं।
बुधवार को जारी बयान में श्री सिंह ने कहा कि अपने शासनकाल में इन्होंने किसानों के गन्ना मूल्य का पूरा भुगतान नहीं किया था। जबकि योगी सरकार ने किसानों का कर्ज माफ करने के साथ ही गन्ना किसानों को रिकार्ड भुगतान किया है। धान तथा गेहूं की रिकार्ड खरीद की है। 
उन्होंन कहा कि जनता और किसान अब अखिलेश यादव के झांसे में आने वाली नहीं है। बेहतर हो, वह घर से निकलकर किसानों के बीच जाएं। सिर्फ बयानबाजी करने से वह किसानों के हमदर्द नहीं बन पाएंगे। अखिलेश यादव पहले भी किसानों के झूठे हमदर्द थे और आगे भी रहेंगे।
प्रवक्ता ने कहा कि सत्ता में आते ही योगी सरकार ने 86 लाख लघु-सीमांत किसानों का कर्ज माफ किया था। किसानों को उनकी फसल का लाभकारी मूल्य देने के लिए सरकार ने न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) में लगातार बढ़ोत्तरी की। बीते चार सालों के दौरान खाद्यान्न की रिकॉर्ड खरीद भी हुई है। गन्ना किसानों को 01 लाख 35 हजार करोड़ से अधिक का रिकार्ड भुगतान सरकार ने किया है। 
उन्होंने कहा कि कोरोना के भय से घर के बाहर ना निकलने के कारण सपा मुखिया को सच्चाई का पता नहीं है। इस वक्त किसानों के खेतों में क्या बोया गया है, इसकी जानकारी भी अखिलेश यादव को नहीं है। 

 

From around the web