हर जरूरतमंदों का फोन कॉल अटेंड करें अधिकारी: मुख्यमंत्री योगी 

 
हर जरूरतमंदों का फोन कॉल अटेंड करें अधिकारी: मुख्यमंत्री योगी

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को जिलों में स्वास्थ्य व्यवस्था की शिकायत मिलने पर कठोर निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि जिन जिलों में सीएमओ या सीएमएस के पद रिक्त हैं, वहां 24 घंटे के भीतर नियुक्ति की जाए।  

सीएम योगी ने कहा कि जानकारी मिली है कि कुछ जिलों में वेंटिलेटर चलाने वाले लोग नहीं है। यह दुर्भाग्य है, इसे स्वास्थ्य विभाग गंभीरता से ले और ऐसे सभी अस्पतालों में तत्काल एनेस्थेटिक व अन्य टेक्नीशियन की उपलब्धता सुनिश्चित करे। साथ ही यह कार्य प्राथमिकता के साथ किया जाए।

उन्होंने सभी डीएम, सीएमओ को अपने जनप्रतिनिधियों एवं क्षेत्रीय जनता के सतत संपर्क में रहने का निर्देश दिया और कहाकि जनप्रतिनिधियों का अनुभव और मार्गदर्शन कोविड प्रबंधन में सहायक होगा। यह भी कहा है कि फील्ड में तैनात सभी अधिकारी एक्टिव मोड में रहें और हर फोन कॉल को अटेंड करें। 

मरीज परिजनों के साथ संवेदनशील व्यवहार करें

योगी ने कहा कि मरीज परिजनों के साथ संवेदनशील व्यवहार किया जाय। सहयोगपूर्ण रवैया परिजन के लिए इस आपदाकाल में बड़ा सम्बल होगा। हेल्पलाइन में सेवाएं दे रहे कार्मिकों समुचित जानकारी दें। यदि कोई व्यक्ति किसी मरीज़ के लिए ऑक्सीजन सिलिंडर की रीफिलिंग के लिए जा रहा है तो उसे रोका न जाए। 

टीम-09 की तर्ज पर जिलों में भी बने विशेष टीम 

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड प्रबंधन के लिए राज्य स्तर पर गठित टीम-09 की तर्ज पर सभी जिलों में विशेष टीम गठित की जाय। इसके लिए अधिकारियों को जिम्मेदारी दी जाए, उसकी मॉनिटरिंग की जाए और जवावदेही तय की जाए। 

निगरानी समितियों से लेखपालों को भी जोड़ा जाय

मुख्यमंत्री ने साप्ताहिक बन्दी, रात्रिकालीन कोरोना कर्फ्यू को प्रभावी ढंग से लागू करने तथा ग्रामीण क्षेत्र में आने वाले एक-एक प्रवासी व्यक्ति की स्क्रीनिंग करने का निर्देश दिया है। कहाकि निगरानी समितियों से लेखपालों को भी जोड़ा जाय।  

होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों से हर दिन बात करें

उन्होंने कहा कि होम आइसोलेशन में उपचाराधीन लोगों से हर दिन संवाद करें। सीएम हेल्पलाइन के माध्यम से प्रतिदिन कम से कम 45-50 हजार मरीजों से संपर्क करें। कहाकि स्वास्थ्य मंत्री के स्तर पर भी मरीजों से बातचीत कर उनका हालचाल लिया जाए।

योगी सरकार 05 मई से पात्र लोगों को देगी नि:शुल्क राशन

मुख्यमंत्री ने कहाकि प्रदेश सरकार सभी नागरिकों के सुचारु भरण-पोषण के लिए संकल्पित है। 05 मई से प्रदेश में पात्र लोगों को निःशुल्क राशन वितरण किया जायेगा। कहाकि राशन वितरण केंद्रों पर कोविड विहैवियर पर सख्ती से अमल हो। पात्र लोगों को पूरी पारदर्शिता के साथ राशन वितरण किया जाए। इस संबंध में कृषि उत्पादन आयुक्त स्तर से कार्ययोजना तैयार कर लें।

ऑक्सीजन की मांग और आपूर्ति में संतुलन बनाया जाय

कहा कि प्रदेश में ऑक्सीजन की मांग और आपूर्ति में संतुलन के लिए सभी जरूरी प्रयास किया जाय। कल प्रदेश में 682 मीट्रिक टन ऑक्सीजन का वितरण किया गया। आज 10 वीं ऑक्सीजन एक्सप्रेज़ चल रही है। कम संक्रमण दर वाले जिलों में भी ऑक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित कराई जा रही है। डीआरडीओ के नए कोविड हॉस्पिटल में ऑक्सीजन आपूर्ति की व्यवस्था कर दी गई है।

उन्होंने बताया कि जामनगर (गुजरात) दुर्गापुर, बरजोरा (पश्चिम बंगाल) बोकारो (झारखंड), जमशेदपुर के साथ साथ काशीपुर, मोदीनगर और रुड़की से भी ऑक्सीजन की आपूर्ति कराई जा रही है। मेडिकल कॉलेजों व सरकारी असप्तालों के साथ-साथ निजी अस्पतालों को आपूर्ति कराई जा रही है। सभी जिलों की स्थिति पर शासन स्तर से सीधी नजर रखी जाय। 

From around the web