भाई ने बहन की हत्या कर शव बोरे में भरकर फौजी की छत पर फेंका, खुला राज तो उड़े होश

 
6

बागपत। जिले में गत सोमवार को लापता किशोरी का शव बोरे में अर्धनग्न अवस्था में मिला था। जिसके बाद परिजनों ने गांव के ही एक रिटायर्ड सैनिक के परिवार और चिकित्सक पर हत्या का आरोप लगाया था। किशोरी का शव रिटायर्ड फौजी की छत पर बोरे में मिलने से पुलिस ने जांच शुरू करते हुए फौजी को हिरासत में ले लिया लेकिन जब पुलिस जांच आगे बढ़ी तो चौकाने वाला खुलासा हुआ। जिसमें बिनौली के शेखपुरा गांव निवासी रिटायर्ड फौजी को फंसाने के लिए मृतक किशोरी के भाई ने ही अपने रिश्तेदार के साथ मिलकर हत्या को अंजाम दिया था। इसके बाद भाई ने बहन के शव को बोरे में बंदकर फौजी की घर पर रख दिया। पुलिस ने इस मामले में आरोपी रिश्तेदार को गिरफ्तार कर सगे भाई को हिरासत में लिया है।
ये था मामला :
थाना बिनौली के गांव शेखपुरा निवासी शहनुमा पुत्री सईद गत शनिवार को संदिग्ध हालात में लापता हो गई थी। जिसको लेकर शहनुमा के भाई नाजिम ने बिनौली थाने में तहरीर दी थी कि उसकी बहन को बुखार व सिरदर्द था। वह पड़ोसी अप्रशिक्षित चिकित्सक बहरूल पुत्र सनव्वर के पास दवा लेने गई थी। इसके बाद से घर नहीं लौटी। शहनुमा को लापता करने का बहरूल व उसके परिजनों पर आरोप लगाया था। पुलिस शिकायत मिलने के बाद से परिजनों के साथ शहनुमा को तलाश रही थी। पुलिस फौजी के मकान की छत पर तलाशने पहुंची तो वहां पर बोरे में अर्द्धनग्न हालत में किशोरी का शव मिलने पर परिजनों ने हत्या करने का आरोप लगाया।
एसपी नीरज कुमार जादौन ने बताया कि पुलिस ने जांच के दौरान किशोरी के भाई नाजिम व गिरफ्तार रिश्तेदार बरनावा निवासी एजाज से पूछताछ की। जिसमें अभी तक सामने आया कि किशोरी के चचेरे भाई शकील उर्फ टिकारू व युवक एजाज ने मिलकर किशोरी की हत्या कर दी।
इस मामले में रिटायर्ड फौजी सनव्वर व उसके बेटे बहरूल को फंसाने के लिए शव बोरी में बंद करके मकान की छत पर रख दिया।

From around the web