बरातियों से भरी वैगनआर तालाब में पलटी, चार की मौत, पांच गंभीर  

 
1
बिजनौर। बरातियों से भरी वैगनआर के तालाब में पलटने से चार युवकों की मौत हो गई और पांच गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों की हालत बिगड़ने पर उनको हायर सेंटर रेफर कर दिया गया है।
घटना कोतवाली देहात के गांव अलीपुरमान उर्फ खेड़ा के पास की है। जहां पर बरातियों की एक वैगनआर कार गुरुवार की रात अनियंत्रित होकर तालाब में पलट गई। दुर्घटना की सूचना के बाद मृतकों के स्‍वजन में कोहराम मच गया।
थाना कोतवाली देहात क्षेत्र के गांव तकीपुर बैगा निवासी प्रशांत कुमार बिट्टू के मामा के चांदपुर क्षेत्र के गांव सेलपुरा में रहते हैं। गांव सेलपुरा से गुरुवार की रात्रि प्रशांत के मामा के लड़के की बरात थाना कोतवाली देहात क्षेत्र के गांव अलीपुर मान उर्फ खेड़ा निवासी रामगोपाल के यहां आई थी। बरात मे गांव तकीपुर बेगा निवासी प्रशांत उर्फ बिट्टू पुत्र रणवीर अपने दोस्तों कोतवाली देहात थाना क्षेत्र के गांव रोशनपुर प्रताप निवासी 20 वर्षीय विशाल पुत्र राजेंद्र व 21 वर्षीय रजत पुत्र भागीरथ, थाना मंडावर क्षेत्र के गांव चंदोक निवासी 20 वर्षीय अक्षय पुत्र जयसिंह व गांव हीरा खेमपुर निवासी दीपक कुमार को साथ ले लिया।
दीपक अपने मामा के गांव रहमापुर निवासी मनोज कुमार की वैगनआर ले ली। उन्होंने अपने परिचित थाना मंडावर क्षेत्र के गांव खिरनी गोपालपुर निवासी निखिल व अभिजीत सिंह को भी बरात में खाना खिलाने को कह कर बैठा लिया। गुरुवार की लगभग 11 बजे सभी युवक बरात में से कार से कोतवाली देहात लौट रहे थे। गांव अलीपुर मान उर्फ खेड़ा से निकले तो उनकी कार गांव के बाहरी छोर पर स्थित तालाब में अनियंत्रित होकर पलट गई।
प्रशांत कुमार उर्फ बिट्टू, विशाल कुमार, रजत कुमार, अक्षय और दीपक कार समेत पानी में डूबे गए। कार में सवार निखिल व उसका तहेरा भाई अभिजीत सिंह ने किसी तरह खिड़की खोलकर बाहर निकले और शोर मचा दिया। दोनो युवकों ने घटना की जानकारी मोबाइल से अपने मामा को गांव रहमापुर में दी। उनके शोर की आवाज सुनकर ग्रामीण मौके पर पहुंचे और किसी तरह कार मे बंद पांचों युवकों को बेहोशी की हालत में बाहर निकाला। पांचों युवकों को गंभीर हालत में बिजनौर रेफर कर दिया। जहां से सभी को जिला अस्पताल लाया गया। जहां पर उपस्थित चिकित्सक ने विशाल, रजत, प्रशांत व अक्षय को मृत घोषित कर दिया। जबकि दीपक की हालत चिंताजनक देखते हैं मेरठ रेफर कर दिया।

From around the web