मां-बेटों को अपहरण के 5 दिन बाद भी नहीं तलाश पाई पुलिस,ग्रामीणों में रोष 

 
3
बुलंदशहर। पांच दिन पूर्व एक महिला और उसके दो बेटों का अपहरण हो गया था। अभी तक पुलिस अपहतों का सुराग नहीं लगा पाई है। जिसके चलते परिजनों में रोष हैै वहीं परिजनों ने अनहोनी की भी आशंका जाहिर की है। पुलिस ने अपहरण के पांच दिन बाद एसएसपी के आदेश पर रिपोर्ट दर्ज की है। घटना गांव राजगढ़ी में हुई जहां पर कार सवार बदमाशों द्वारा एक महिला व उसके दो बेटों का अपहरण कर लिया था। दर्ज रिपोर्ट में दो लोगों को नामजद किया गया है। 
थाना क्षेत्र के गांव राजगढ़ी निवासी सतपाल पुत्र कृपाल सिंह ने एसएसपी को शिकायती पत्र भेजकर बताया कि गत आठ सितंबर को कार सवार बदमाश उसकी पत्नी मौसम और दो पुत्र कशिश और यश को गांव से अपहरण कर ले गए। ग्रामीणों ने उनका पीछा किया तो आरोपी बीबीनगर क्षेत्र के गांव सैदपुर के पास कार से उतरकर तीनों को अपने साथ खेतों की ओर लेकर भाग गए। जिसके बाद ग्रामीणों ने उनकी तलाश की, लेकिन बदमाशों सहित अगवा हुई महिला और उसके पुत्रों का कोई अता पता नहीं चल सका। हालांकि, ग्रामीणों ने कुछ देर बाद कार सहित चालक अजमुल पुत्र हाकिम निवासी छतरपुर थाना चंदन होला नई दिल्ली को पकड़ कर पुलिस को सौंप दिया। पीड़ित पति का आरोप है कि हल्के के दरोगा ने उनकी शिकायत पर कोई कार्रवाई नहीं की। बाद में पीड़ित परिजन सदर विधायक उषा सिरोही से मिले। उषा सिरोही ने एसएसपी से बात की। एसएसपी की फटकार के बाद थाना पुलिस ने दो के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है। थाना प्रभारी योगेंद्र मलिक ने बताया कि एक आरोपी को गिरफ्तार किया गया है। जबकि, दूसरा आरोपी अनुज पुत्र सुरेंद्र निवासी खेखड़ा थाना बागपत फरार है।

From around the web