हिन्दी में कार्य को लेकर न्यायालय के अधिवक्ताओं ने चलाया हस्ताक्षर अभियान

 
ल

प्रयागराज। विश्व हिन्दी दिवस के मौके पर उच्च न्यायालय इलाहाबाद के मुख्य द्वार पर भारतीय भाषा आंदोलन काशी प्रान्त के अधिवक्ताओं की ओर से सोमवार को हस्ताक्षर अभियान चलाया गया।

कार्यक्रम का नेतृत्व भारतीय भाषा आंदोलन के राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य अधिवक्ता देवेन्द्र मणि त्रिपाठी ने किया। अभियान के दौरान लोगों ने हस्ताक्षर कर शपथ लिया कि आगामी दिनों में हिन्दी में ही पक्ष अभियाचना बहस करेंगे। साथ ही हिन्दी में न्याय पाने तथा न्यायालय और न्यायमूर्ति से हिन्दी में ही न्यायिक आदेश पारित करने का अनुरोध करेंगे। कहा गया कि भारतीय भाषा आंदोलन का बोध वाक्य ही ‘यतो मातृ भाषा ततो न्याय’ है।

उक्त अभियान में 01 हजार 752 अधिवक्ताओं ने हस्ताक्षर कर न्यायालय में सिर्फ हिन्दी में ही कार्य करने की शपथ ली। कार्यक्रम में भारतीय भाषा आंदोलन के राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य अधिवक्ता देवेन्द्र मणि त्रिपाठी, काशी प्रान्त के अध्यक्ष आत्रेय दत्त मिश्रा, प्रभूति कांत, राहुल, नीरज, रविनाथ, अमित, मनीष, मनोज, रीता, सरिता, ऊष्मा, डी के त्रिपाठी, श्रवण कुमार, जगदीश, सतेन्द्र जोशी आदि सैकड़ों अधिवक्ता उपस्थित रहे।

From around the web