दीपक यादव की हत्या प्रेमिका और दोस्त ने मिलकर की थी, मुंबई भाग चलने की कर रहा था जिद 

 
न
जौनपुर -मुजफराबाद थाना क्षेत्र के समोपुर कला गांव निवासी दीपक यादव की हत्या उसकी प्रेमिका और दोस्त ने मिलकर की थी। पुलिस ने तीसरे दिन शुक्रवार को दोनों को गिरफ्तार कर पूरे प्रकरण का पर्दाफाश कर दिया। प्रेमिका का दीपक के साथ ही उसके दोस्त से भी प्रेम प्रसंग चल रहा था। दीपक प्रेमिका पर मुम्बई भाग चलने के लिए दबाव बना रहा था और यही उसकी हत्या का कारण बन गया। दोनों ने साजिश रचकर गमछे से गला घोंटकर उसे मौत के घाट उतार दिया।

मामले का शुक्रवार को खुलासा करते हुए थानाध्यक्ष ने बताया कि 22 वर्षीय दीपक यादव का बीते बुधवार की सुबह गांव से कुछ दूर नदी के किनारे चिलबिल के पेड़ के नीचे संदिग्ध परिस्थितियों में शव मिला था। दीपक की मां गुलाबी देवी की तहरीर पर पुलिस ने उसके मित्र इंद्रजीत व प्रेमिका प्रीति यादव के विरुद्ध हत्या का मुकदमा पंजीकृत किया था। गुरुवार को पुलिस ने दोनों को हिरासत में ले लिया। पूछताछ के दौरान दोनों ने पुलिस को भ्रमित करने की पूरी कोशिश की। पहले इंद्रजीत निषाद ने कहा कि दीपक मंगलवार की रात अपनी प्रेमिका से मिलने गया था। इसी दौरान प्रीति यादव ने फोन कर उसे अपने पास बुलाया और कहा कि दीपक उस पर मुम्बई भाग चलने के लिए दबाव बना रहा था। इनकार करने पर आत्महत्या करने की धमकी देते हुए नदी की तरफ गया है। इस पर वह प्रीति के साथ नदी किनारे पहुंचा तो वहां दीपक का शव पेड़ के पास दिखा। डर के मारे दोनों वहां से भाग गए।

थानाध्यक्ष योगेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि इसके बाद दोनों से सख्ती से पूछताछ की गई तो पता चला कि प्रीति का दीपक के साथ ही इंद्रजीत से भी प्रेम प्रसंग चल रहा था। दोनों ने साजिश रचकर गमछे से गला घोंटकर दीपक की हत्या कर दी और आत्महत्या का रूप देने के लिए शव को गमछे से फंदे के सहारे पेड़ में लटकाने का प्रयास किया था।दोनों को हत्या के मामले में जेल भेजा जा रहा है।

From around the web