Election 2022: UP में बढ़ा सियासी पारा, समाजवादी पार्टी से जुड़े पूर्व मंत्री मौर्य और सैनी

 
व


मकर संक्रांति से मौसम में गर्माहट आने की शुरुआत होती है. लेकिन राजनीति के लिहाज से आज यूपी (UP) में तापमान बेहद गर्म रहा. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh ) के पूर्व मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya) और धर्म सिंह सैनी (Dharm Singh Saini) ने आज अखिलेश यादव की मौजूदगी में समाजवादी पार्टी ज्वॉइन कर ली. विनय शाक्य और भगवती सागर समेत छह विधायकों ने भी शुक्रवार को आधिकारिक रूप से समाजवादी पार्टी से नाता जोड़ लिया. अखिलेश यादव की मौजूदगी में सबको पार्टी की सदस्यता दिलाई गई. एक नजर उन नेताओं पर जिन्होंने शुक्रवार को सपा की सदस्यता ली.


सपा में शामिल हुए नेता स्वामी प्रसाद मौर्य, पूर्व मंत्री धर्म सिंह सैनी, बिल्हौर से विधायक भगवती सागर, शाहजहांपुर विधायक रोशनलाल वर्मा, शिकोहाबाद फिरोजाबाद के विधायक डॉ. मुकेश वर्मा, बांदा विधायक बृजेश कुमार प्रजापति और सिद्धार्थनगर के विधायक चौधरी अमर सिंह और विनय शाक्य प्रमुख रहे.

इनके अलावा पूर्व विधायक, रामपुर अली यूसुफ, पूर्व मंत्री, सीतापुर राम भारती, नीरज मौर्य, हरपाल सिंह, बलराम सैनी, राजेंद्र प्रसाद सिंह पटेल, विद्रोही धनपत मौर्य, ध्रुवराम चौधरी, पदम सिंह और अयोध्या प्रसाद पाल जैसे पूर्व विधायक और मंत्री ने भी समाजवादी पार्टी की सदस्यता ली.


इधर बिना इजाजत कार्यक्रम करने और भीड़ जुटाने को लेकर जिलाधिकारी ने जांच बिठा दी है. लखनऊ के जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने कहा कि समाजवादी पार्टी का कार्यक्रम बिना अनुमति के हुआ है. सूचना मिलने पर मजिस्ट्रेट के साथ पुलिस टीम को सपा दफ्तर भेजा गया. रिपोर्ट के आधार पर ज़रूरी कार्रवाई की जाएगी.

बता दें चुनाव आयोग के निर्देशानुसार 15 जनवरी तक रैलियों पर रोक है.

From around the web