नकली लुब्रिकेंट ऑयल बनाने की फैक्ट्री का भंडाफोड़, 4 करोड़ के माल समेत 2 आरोपी गिरफ्तार

 
1

गाजियाबाद। गाजियाबाद की स्वाट टीम ने नकली लुब्रिकेंट ऑयल बनाने की फैक्ट्री का भंडाफोड़ करते हुए करीब 4 करोड के माल के साथ दो लोगों को  गिरफ्तार किया है और अन्य की तलाश जारी है।
इंडियन ऑयल लीगल मैनेजर एबी पांडेय ने बताया कि गाजियाबाद की स्वाट टीम ने ऐसी ही कई लुब्रिकेंट बनाने वाली कंपनियों का पर्दाफाश किया है। जो ब्रांडेड लुब्रिकेंट के नाम से नकली लुब्रिकेंट बनाकर बाजार में बेचा करते थे। स्वाट टीम ने कविनगर इंडस्ट्रियल एरिया और मसूरी इलाके में छापेमारी कर दोनों जगह से करीब 4 करोड रुपए की कीमत का नकली लुब्रिकेंट और लुब्रिकेंट बनाने व पेकिंग करने की मशीन के अलावा भारी मात्रा में अन्य सामान भी बरामद किया है। इस दौरान पुलिस ने दो शातिर लोगों को भी गिरफ्तार किया है। जबकि अन्य की तलाश अभी जारी है।
इंडियन ऑयल के अधिकारियों ने बताया कि सूचना मिल रही थी कि बाजार में कुछ इस तरह की फर्जी कंपनी चल रही हैं जो डुप्लीकेट ऑयल बनाकर बाजार में बेच रही है। इसकी जानकारी पुलिस के आला अधिकारी को दी गई। पुलिस ने अपनी स्पेशल टीम इंडियन ऑयल अधिकारी के साथ मिलकर कविनगर औद्योगिक क्षेत्र में छापेमारी के दौरान दो करोड़ एंव मसूरी क्षेत्र में भी दो करोड़ रुपये यानी दोनों जगह से करीब 4 करोड़ का नकली ल्युब्रिकेंट बरामद किया है! यह फैक्ट्रियां पूरे उत्तर भारत में माल सप्लाई कर रही थी!  पुलिस जांच में पता चला यह आरोपी पहले भी जेल जा चुके हैं ! उन्होंने बताया कि कई प्रकार के तेलों का आपसी मिश्रण करके यह ऑयल बनाते थे ! कही ना कही आम आदमी के लिए इसकी पहचान करना बेहद मुश्किल है। लेकिन ओरिजिनल लुब्रिकेंट बनाने वाली कंपनी तमाम ऐसी पहचान रखती हैं जिससे कंपनी के लोग तत्काल प्रभाव से इसकी पहचान कर सकते हैं। इंडियन ऑयल के लीगल मैनेजर एबी पांडे ने बताया कि इससे पहले पिलखुवा में भी छापेमारी की गई थी वहां भी करोड़ों रुपए का नकली लुब्रिकेंट बरामद किया गया था और इनका एक बड़ा नेटवर्क है जो पूरे देश भर में फैला हुआ है उन्हें पकड़ने के लिए लगातार इस तरह की कार्रवाई समय-समय पर की जाती रहेगी ताकि मिलावट खोर लोगों के कीमती वाहनों से खिलवाड़ ना कर सकें।

From around the web