मालिक से बात कर रहे मजूदरों पर गिरी पेठा फैक्टरी की छत, एक की मौत, दो घायल

 
1

गाजियाबाद। मकान जर्जर होने के चलते आए दिन कहीं से कहीं से हादसों की खबर सुनने को मिल ही जाती है। ऐसा ही कुछ जनपद के लोनी थाना क्षेत्र में देखने को मिला है, जहां निर्माणाधीन पेठा फैक्टरी की छत गिरने से भीषण हादसा हो गया। हादसे में फैक्टरी के मालिक समेत दो मजदूर मलबे में दब गए। छत गिरने की आवाज से मौके पर पहुंचे लोगों ने मलबे को हटाकर तीनों को बाहर निकाला और आनन-फानन में अस्पताल में भर्ती कराया, जहां इलाज के दौरान एक मजदूर की मौत हो गई। जबकि दोनों घायलों का डाॅक्टरांे द्वारा उपचार किया जा रहा है। 

ये है पूरा मामला-

बता दें कि जनपद के लोनी बाॅर्डर थाना क्षेत्र की इंदिरा एंक्लेव कॉलोनी में सोमवार रात एक निर्माणाधीन पेठा फैक्टरी की छत गिरने से इलाके में हड़कंप मच गया। हादसे के दौरान दिल्ली मीतनगर कॉलोनी निवासी लक्ष्मण सिंह इंदिरा एंक्लेव कॉलोनी स्थित अपनी पेठा फैक्टरी की छत का निर्माण करा रहे थे। सोमवार रात करीब सात बजे दो मजदूर रामदेव और विलास निवासी कोटीया जिला कटिहार, बिहार फैक्टरी की छत का कार्य खत्म करने के बाद मालिक के साथ नीचे वाले कमरे में खड़े थे। इस दौरान निर्माणाधीन फैक्टरी की छत गिर गई। जिसके बाद तीनों को घयलावस्था में दिल्ली के जीटीबी अस्पताल में भर्ती कराया। जहां एक मजदूर की मौत हो गई। जिसके बाद पुलिस द्वारा मौत की खबर मृतक विलास के परिजनों को दी गई। 

एक घंटे मलबे में दबा रहा विलास-

वहीं विलास मजदूर की मौत के बाद अस्पताल पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मिली जानकारी के अनुसार विलास करीब एक घंटे तक मलबे में दबे रहे। जिसके बाद बड़ी मुश्किल से उन्हें बाहर निकाला गया। बॉर्डर थाना एसएचओ अखिलेश कुमार मिश्र ने इस पूरी घटना को विस्तार से बताया।

From around the web