योगी चढ़ायेंगे शिवावतारी बाबा गोरखनाथ को खिचड़ी, एक माह तक सजेगा मेला 

 
न

गोरखपुर - उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री एवं गोरक्षपीठाधीश्वर महंत योगी आदित्यनाथ मकर संक्रन्ति के अवसर पर शिवावतारी बाबा गोरक्षनाथ को सबसे पहले खिचड़ी चढ़ायेंगे।

खिचड़ी चढ़ाने के लिये पूर्वी उत्तर प्रदेश के अलावा बिहार, उत्तराखंड, दिल्ली, हरियाणा,पंजाब, गुजरात तथा अन्य प्रान्तों के श्रद्धालुओं के साथ पड़ोसी देश नेपाल से जनसैलाब गोरखनाथ मंदिर में एकत्र होता हैं। प्रतिवर्ष 14 या 15 जनवरी को सूर्य के मकर राशि में प्रवेश के साथ ही नाथ संप्रदाय के प्रसिद्ध शिवावतारी गोरक्षनाथ मंदिर में परम्परागत रूप से खिचड़ी चढ़ीने का क्रम शुरू हो जाता है। निर्धारित मुहूर्त में सबसे पहले गोरक्षपीठाधीश्वर द्वारा खिचड़ी चढ़ायी जाती है।

श्रद्धालु मंदिर परिसर में स्थित भीम सरोवर में पहले स्नान करते हैं और उसके बाद योगी गोरखनाथ का दर्शन करने के बाद खिचड़ी चढ़ाते हैं। इस भीम सरोवर में देश के सभी पवित्र नदियों का जल  डाला गया है। मकर संक्रांति के तैयारियों के सिलसिले में शहर के चौराहों तथा गलियों में चूड़ा,लाई,पट्टी,तिलकुट तथा गजक की दुकानें सजी है। मकर संक्रान्ति का पर्व पूर्वी उत्तर प्रदेश,बिहार तथा पड़ोसी देश नेपाल में बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है।

आगरा का तिल लड्डू,बिहार का तिलकुट,बंगाल का रामदाना,कानपुर की गजक एवं लखनऊ की रेवड़ी इस बार लोगों को खूब भा रही है। परम्परागत वस्तुओं के साथ ही साथ इस समय सजावटी सामानों की भी भरमार है।

गोरखनाथ मंदिर में 14 जनवरी से एक माह तक चलने वाला खिचड़ी मेला में दुकानें सज गयी हैं। हजारों की सख्या में श्रद्धालु गोरखपुर आकर शिवावतारी गोरखनाथ बाबा को खिचड़ी,तेल,चावल, गुड़, नमक और घी आदि चढ़ाते हैं।

From around the web