हमीरपुरः बुधवार से घर-घर कोविड के संभावित मरीजों की होगी पहचान

 
1

हमीरपुर। ग्रामीण इलाकों में बढ़ते कोविड संक्रमण पर प्रभावी नियंत्रण के लिए पांच से नौ मई तक विशेष अभियान चलाया जाएगा। इन पांच दिनों में स्वास्थ्य विभाग की टीम होम आइसोलेशन में रह रहे ग्रामीण इलाकों के उपचाराधीनों की निगरानी करेगी। परिवार के किसी भी सदस्य को अगर कोविड के लक्षण होंगे, तो उन्हें भी दवा किट मुहैया कराई जाएगी। आशा कार्यकर्ता के माध्यम से चलने वाले इस अभियान की प्रतिदिन सीएचसी-पीएचसी स्तर पर रिपोर्टिंग भी होगी। 

इस वक्त कोरोना संक्रमण बहुत तेजी से हर ओर पांव पसार रहा है। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की वजह से ग्रामीण इलाकों में भीड़भाड़ और लोगों की आवाजाही की वजह से संक्रमण गांव-गांव पहुंचने की आशंका ज्यादा है। अब इसी को देखते हुए शासन ने गांव-गांव कोरोना मरीजों की जांच का अभियान शुरू किया है। इसकी शुरुआत बुधवार (5 मई) से होगी।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ.आरके सचान ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की टीम घर-घर जाकर होम आइसोलेशन में रहने वालों की निगरानी करेगी। उन्हें समय से दवा और परामर्श मिल रहा है या नहीं, इसकी पता करेगी। कोरोना पॉजिटिव मरीज के परिवार के किसी भी सदस्य को अगर कोविड-19 के लक्षण हैं तो उन्हें बिना जांच कराए ही दवा की किट मुहैया कराएगी साथ ही जांच भी करवाने को प्रेरित करेगी ताकि समय से उपचार शुरू हो सके। उन्होंने बताया कि अभियान नौ मई तक चलेगा और इसकी प्रतिदिन मॉनीटरिंग भी की जाएगी।

From around the web