हापुड़ में पति से हुई फोन पर कहासुनी तो रजवाहे में बच्चे सहित लगाई छलांग

 
1
हापुड। 'जाको राखे साइयां, मार सके ना कोय' यह कहावत उस समय सही साबित हुई जब एक महिला ने पति से फोन पर हुई कहासुनी के बाद तड़के तीन बजे उफनते रजवाहे में बच्चे सहित कूदकर आत्महत्या करने की कोशिश की। महिला को रजवाहे में छलांग लगाते हुए देख किसानों ने उसे बचाने की कोशिश की। महिला को तो ग्रामीणों ने अपनी जान पर खेलकर  बचा लिया। लेकिन बच्चे की रजवाहे में डूबने से मौत हो गई। 
घटना थाना गढ के गांव नानपुर की है। जहां गांव के रहने वाले इदरीश मास्टर की बेटी रिजवाना अपने मायके आई हुई है। इदरीश मास्टर के यहां कोई कार्यक्रम इत्यादी है। रिजवाना का देर रात अपने पति से विवाद हुआ।  जिसके बाद उसने तड़के बच्चे के साथ उफनते रजवाहे में छलांग लगा दी। महिला जैसे ही गंग नहर में कूदी तभी आसपास के ग्रामीणों ने देखकर शोर मचा दिया। समय न गंवाते हुए रिजवाना को बचाने के लिए रजवाहे में कुछ ग्रामीण युवक कूद गए। युवकों द्वारा रिजवाना को बचाए जाने के दौरान भी उसने छूटकर अपनी जीवन लीला समाप्त करने की भी कोशिश की।
लेकिन युवकों ने अपनी जान की परवाह किए बिना रिजवाना को रजवाहे से बाहर निकाल लिया। इसके बाद रिजवाना ने जानकारी दी कि वह बच्चे के साथ कूदी थी,वह कहां है। ग्रामीणों ने बच्चे की तलाश भी शुरू कर दी। जिसके बाद बच्चे की लाश लोगों के हाथ लगी। मौके पर पहुंचे पुलिस चौकी नानपुर पर तैनात दारोगा ने बताया कि  ने बताया कि उसका किसी बात को लेकर पति से झगड़ा हो गया था, झगड़ा इस कदर बढ़ा कि महिला ने जान देने का फैसला कर लिया।

From around the web