जापान के नए प्रधानमंत्री ने निचले सदन को किया भंग, चुनाव का रास्ता साफ

 
1

टोक्यो। जापान के प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा ने गुरुवार को संसद के निचले सदन को भंग करा दिया। सदन के अध्यक्ष टाडामोरी ओशिमा ने एक पूर्ण सत्र में दो सदनों में सबसे शक्तिशाली निचले सदन को भंग करने की घोषणा की। इससे आम चुनावों का रास्ता साफ हो गया है। महज 10 दिन पहले फुमियो किशिदा को योशिहिदे सुगा की जगह प्रधानमंत्री बनाया गया था।

किशिदा ने कहा कि वह अपनी नीतियों के लिए जनादेश चाहते हैं। पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि ‘मैं चुनाव का उपयोग लोगों को यह बताने के लिए करना चाहता हूं कि हम क्या करने की कोशिश कर रहे हैं और हमारा लक्ष्य क्या है।” पिछले 11 दिनों को दर्शाते हुए, किशिदा ने कहा: “मैं थका हुआ महसूस नहीं कर रहा हूं। मैं पूर्ण महसूस कर रहा हूं। किशिदा ने भरोसे और सहानुभूति की राजनीति करने का वादा किया है।

उल्लेखनीय है कि जापान के पूर्व विदेश मंत्री किशिदा ने सत्तारूढ़ लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी के नेता पद का चुनाव पिछले सप्ताह ही जीता था। उनका आगे भी प्रधानमंत्री चुना जाना तय था, क्योंकि संसद में उनकी पार्टी और उसके सहयोगी का दोनों सदनों में बहुमत है। किशिदा ने पार्टी के नेता पद के मुकाबले में लोकप्रिय टीकाकरण मंत्री तारो कोनो को हराया था। उन्होंने पहले चरण के चुनाव में दो महिला उम्मीदवारों सना तकाइची और सेइको नोडा को पराजित किया था।

From around the web