योगी ने दिखाई संवेदनशीलता,पीड़िता को भेजे 10 हजार

 

लखनऊ,- उत्तर प्रदेश कानपुर देहात में पुलिस होमगार्ड की प्रताड़ना की शिकार पीड़िता के प्रति मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संवेदनशीलता दिखाते हुये अधिकारियों के हाथ दस हजार रूपये का चेक और फलों की टाेकरी भेजी है।
मुख्यमंत्री के निर्देश पर जिलाधिकारी जितेंद्र कुमार सिंह और एसपी केशव कुमार चौधरी को पीड़ित महिला अंजू से मिलने उसके घर गये और 10 हजार का चेक और फलों की टोकरी सौंपी।
दरअसल, बीते दिनों कानपुर देहात के अमराहट क्षेत्र में नशे में चूर होमगार्ड देवेंद्र के हंगामे और मारपीट का वीडियो सामने आया था, जिसमें होमगार्ड ने महिला के साथ अश्लील हरकत करते हुए छेड़खानी की। पीड़िता ने इसका विरोध किया, तो होमगार्ड ने उसे पीट दिया और उसके दुकान की सब्जियों को भी फेंक दिया।
यह वीडियो सोशल मीडिया के माध्यम से जब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तक पहुंचा, तो उन्होंने तत्काल आरोपी होमगार्ड को बर्खास्त करने और डीएम-एसएसपी को पीड़ित महिला से संपर्क कर आर्थिक मदद करने के निर्देश दिए। सीएम के निर्देश पर पुलिस ने आरोपी होमगार्ड के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। साथ ही पीड़ित महिला के घर जाकर 10 हजार रुपए की आर्थिक मदद भी की।
इससे पहले भी श्री योगी कई बार मानवता दिखाते हुए वायरल वीडियो पर कार्रवाई के आदेश दे चुके हैं। उन्होने हाल ही में केजीएमयू में जिंदगी और मौत से जूझ रहे गोरखपुर के पीपीगंज निवासी फुटबॉल खिलाड़ी साजन गुप्ता की हालत का संज्ञान लिया था और डॉक्टरों को साजन गुप्ता के बेहतर ईलाज के निर्देश दिए थे। साथ ही मुख्यमंत्री ने पीड़ित खिलाड़ी की आर्थिक मदद के भी निर्देश जारी किए थे।
पिछले चार सालों के दौरान श्री योगी ने विवेकाधीन फंड के जरिये गरीबों और बीमारों की मदद के लिए 10 अरब रुपए दिए हैं जो पिछली सरकारों की तुलना में कहीं ज्यादा है।

From around the web