मेरठ में पांच सूत्रीय कार्यक्रम के सम्मोहन बाण से वोटरों को साधने की कोशिश

 
1
मेरठ। प्रदेश में विधानसभा चुनावों में अब चंद महीने का समय बचा है। इसके चलते अभी तक पार्टी जमीनी स्तर पर उतरने में नाकाम थी और काफी परेशानियां भी थीं। लेकिन अब बीजेपी ने अपनी कमर कस ली है।  पार्टी संगठन ने अब सेवा संगठन कार्यक्रम के माध्यम से पांच प्रोग्राम तय किए हैं। पांचों कार्यक्रमों की जिम्मेदारी पार्टी महामंत्रियों को दी गई हैं। खास बात ये है कि इन महामंत्रियों के साथ एक प्रदेश मंत्री भी लगाए गए हैं। यानी इन पांच सूत्रीय कार्यकम के सम्मोहन बाण से प्रदेश में अब वोटरों को साधने की कोशिश में संगठन जुट गया है। 
ये होंगे पांच सूत्रीय कार्यक्रम
इसके तहत पहला कार्यक्रम प्राथमिक स्वास्‍थ्य केंद्र को गोद लेने का है। इस कार्यक्रम की जिम्मेदारी महामंत्री प्रियंका रावत को दी गई है। पीएचसी कार्यक्रम में सभी लोकसभा,राज्यसभा सांसद अपने संसदीय क्षेत्र की विधानसभा में एक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को गोद लेंगे। सभी विधायक और एमएलसी भी अपने क्षेत्र का एक-एक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र गोद लेंगे। इतना ही नहीं सभी निगम बोर्ड आयोग के चेयरमैन समेत प्रमुख पदों पर मनोनीत लोगों को भी एक-एक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र गोद लेना है। पार्टी का उद्देश्य है कि उत्कृष्ट सक्षम स्वास्थ्य केंद्र बने।
दूसरा कार्यक्रम पोस्ट कोविड सेंटर को लेकर है। इसके माध्यम से बीजेपी के कार्यकर्ता लोगों की सेवा कर सकेंगे। इसकी जिम्मेदारी महामंत्री अनूप गुप्ता और प्रदेश मंत्री रामचंद्र कन्नौजिया को दी गई है। पार्टी का निर्देश है कि कोरोना से ठीक होने के बाद दुष्प्रभावों से आमजन को बचाने के लिए कार्यकर्ता सामाजिक भूमिका का निर्वहन करें। हर जिले में पोस्ट कोविड सेंटर चिकित्सकों को जोड़कर एक टीम तैयार करेगा जो जरुरतमंदों की मदद कर सकें।
तीसरा बड़ा कार्यक्रम वैक्सीनेशन को लेकर जागरुकता लाना है। जिसकी जिम्मेदारी गोविंद नारायण शुक्ला को दी गई है। वैक्सीनेशन जागरुकता के माध्यम से बीजेपी के आईटी और युवा मोर्चा के कार्यकर्ता गांव-गांव जाकर लोगों को जागरुक करेंगे।
चौथा कार्यक्रम यूपी स्कीम है जिसकी जिम्मेदारी अमरपाल मौर्य को दी गई है और उनके साथ प्रदेश मंत्री सुभाष यदुवंश रहेंगे। इसके माध्यम से सरकारी योजनाओं का लाभ जनता को दिलवाया जाएगा। कोई भी व्यक्ति सरकारी योजनाओं से वंचित न रहे इसका पूरा ध्यान रखा जाएगा। पांचवा कार्यक्रम ग्राम पंचायत को लेकर है। इसमें एजेंडा तैयार किया जाएगा जिसकी जिम्मेदारी महामंत्री जेपीएस राठौर को दी गई है। इनके साथ प्रदेश मंत्री शंकर लोधी को रखा गया है।
पश्चिमी उप्र अध्यक्ष मोहित बेनीवाल ने बताया कि ये कार्यक्रम पश्चिमी उप्र के जिलों में प्राथमिकता के आधार पर चलाए जाएंगे। इसके लिए पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं को दिशा—निर्देश दिए गए हैं। वहीं पार्टी के जनप्रतिनिधि भी इससे जुड़ेेंगे और कार्यक्रम की दिशा को आगे बढ़ाएंगे।

From around the web