पति-पत्नी के विवाद में चली ताबड़तोड़ गोलियां, दो पूर्व प्रधान सहित तीन घायल

 
ु
मेरठ। गुरुवार की देर रात पति—पत्नी के बीच हुए विवाद में ताबड़तोड़ कई राउंड गोलियां चली। जिसने रात के सन्नाटे को चीरकर रख दिया। गोलीबारी में दो पूर्व प्रधान समेत तीन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। फायरिंग की जानकारी आसपास के लोगों ने पुलिस को दी । मौके पर पहुंची पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।
दौराला थाना क्षेत्र के सरसवा गांव निवासी पूर्व प्रधान पवन की शादी कई साल पहले बागपत के दोघट थाना क्षेत्र के मुलसम गांव की गरिमा से हुई थी। दो साल से दोनों के बीच विवाद चल रहा है। फिलहाल गरिमा पल्लवपुरम फेज दो में पवन के ही मकान में रह रही है। गुरुवार को पवन अपनी मां और बहन के साथ वहां पहुंचा। तभी कहासुनी के बाद दोनों पक्षों में मारपीट हो गई। गरिमा के घर वालों ने लाइसेंसी राइफल से गोलियां चला दीं। ताबड़तोड़ दर्जनों राउंड फायरिंग हुई। जिसमें पवन और उसके रिश्तेदार रसूलपुर गांव के पूर्व प्रधान अश्वत्थामा व पवन के चचेरे भाई अजीत को गोली लग गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मौके से ससुर सुभाष निवासी मुसलम,साली पल्लवी और साले विश्वास को लाइसेंसी राइफल और कारतूस के साथ गिरफ्तार कर लिया। जबकि पवन के दो साले गौरव और सूरज फरार होने गए।
एसपी सिटी विनीत भटनागर ने बताया कि घायलों को उपचार के लिए अस्पताल भेजा गया है। फिलहाल गिरफ्तार तीन आरोपियों खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है। गौरव और सूरज की भूमिका की जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी।
मकान में रहने आया था पवन
पुलिस ने बताया कि गुरुवार को पवन अपने परिवार वालों को लेकर मोदीपुरम फेज दो वाले मकान में रहने आया था। जबकि गरिमा और उसके घर वाले ऐसा नहीं चाहते थे। गरिमा पक्ष के लोगों ने उन पर हमला कर दिया। वहीं पूर्व प्रधान की ओर से भाकियू के पदाधिकारी भी टोपी लगाकर मौके पर आ गए थे।
फायरिंग होते ही दरवाजे बंद
फायरिंग होते ही कॉलोनी के लोगों ने दरवाजे बंद कर लिए। लोगों को लगा कि कॉलोनी में बदमाश घुस आए हैं। कुछ लोग छतों पर चढ़ गए और पुलिस को सूचना दी। 15 मिनट बाद ही पुलिस आ गई। एसओ पल्लवपुरम अवनीश कुमार ने बताया कि राइफल के लाइसेंस के निरस्तीकरण के लिए रिपोर्ट भेजी जा रही है।

From around the web