इंटरनेट के साथ बढ रहा साइबर क्राइम: प्रो0 विकास 

 
1
मेरठ। इंटरनेट का प्रयोग करने वालों की संख्या प्रतिदिन बढती ही जा रहा है, इसके साथ ही साइबर क्राइम भी तेजी के साथ बढ रहा है। इंटरनेट यूज करने के मामले में चीन के बाद भारत का दूसरा नंबर आता है। इसीलिए सभी को आईटी एक्ट की जानकारी होना बहुत आवश्यक है। यदि हमारे साथ कोई साइबर अपराध हुआ है तो भारत सरकार द्वारा बनाई गई वेबसाइट पर अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं। यह बात महात्मा गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय, मोतिहारी, बिहार में डीन प्रो0 विकास पारिक ने Security and privacy in Cyberspace विषय पर पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग व विश्व संवाद केंद्र, मेरठ के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित आॅनलाइन विशेष व्याख्यान के दौरान कही।
प्रो0 विकास पारिक ने कहा कि एक पत्रकार होने के नाते हमारा दायित्व है कि खबर तथ्यों पर आधारित होनी चाहिए। क्यूआर कोड को स्कैन करते समय सावधानी बरतनी चाहिए। क्योंकि हर किसी पर विश्वास नहीं किया जा सकता है। इंटरनेट के माध्यम से हम जो भी यूज कर रहे हैं उसका पासवर्ड हमेशा बदलते रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि फोन पर अपनी किसी भी प्रकार की जानकारी देने से बचना चाहिए। क्योंकि आजकल फोन के माध्यम से साइबर क्राइम ज्यादा हो रहा है। किसी को अपना ओटीपी  नंबर शेयर न करें, किसी भी लिंक को बिना जाने समझे क्लिक न करे बल्कि सीधे उसकी वेबसाइट पर जाना चाहिए। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय के कला संकायध्यक्ष प्रो0 नवीन चंद्र लोहनी ने कहा कि निजता की सुरक्षा बहुत बडा सवाल है, साइबर क्षेत्र में बहुत बडा परिवर्तन आया है। वर्तमान में इंटरनेट के बिना रहना नामुकिन हो गया है। पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग के निदेशक प्रो0 प्रशांत कुमार ने सभी का स्वागत किया। डाॅ0 मनोज कुमार श्रीवास्तव ने सभी का धन्यवाद ज्ञापित किया। कार्यक्रम का संचालन विभाग की छात्रा आयशा ने किया। इस दौरान प्रांत प्रचार प्रमुख सुरेंद्र सिंह, डाॅ0 साकेत रमण, श्रीमती बीनम यादव, मितेंद्र कुमार गुप्ता, राकेश, उपेश, ज्योति सहित पत्रकारिता विभाग के सभी छात्र एवं छात्राएं मौजूद रहे।

From around the web