कोहरे ने रोकी जीवन की रफ्तार, एनसीआर और वेस्ट के जिलों पर दिखा आज असर

 
b
मेरठ। गत दिनों हुई बारिश से जहां एनसीआर और पश्चिमी उप्र का प्रदूषण धुल गया। वहीं इसका असर तापमान पर भी देखा गया है। बारिश के बाद बढ़ते तापमान ने गोता लगाया है। वहीं कोहरे ने भी अब अपना असर दिखाना शुरू किया है। कोहरे के कारण जीवन की रफ्तार में कमी आई है। आज मेरठ,गाजियाबाद,शामली,हापुड,बागपत,नोएडा के अलावा दिल्ली के बाहरी हिस्सों में कोहरा दिखाई दिया। एनसीआर के अलावा पश्चिमी उप्र के अधिकांश जिलों में कोहरे की दस्तक हो चुकी है।
वहीं एक्यूआई आज मंगलवार को अधिकांश जिलों में 100 के ऊपर पहुंच चुका है। हालांकि बारिश के बाद वायु गुणवत्ता सूचकांक 50 से नीचे आ चुका था जो कि अब धीरे—धीरे बढ़ने लगा है। अगले कुछ दिनोें में ठंड  बढ़ने के साथ एक्यूआइ में भी बढ़ोत्तरी दिखाई देगी। सफर इंडिया का कहना है कि लगातार कई दिनों की बारिश से प्रदूषक तत्व अभी दबे हुए ही हैं। इसीलिए वायु गुणवत्ता फिलहाल नियंत्रण है। बारिश के इसी असर और तेज हवा की वजह से अभी एक दो दिन और वायु गुणवत्ता बेहतर ही बनी रहेगी। हालांकि  हवा की गति अब मंद पड़ गई है।
इससे पहले दिल्ली सहित एनसीआर के जिलों की वायु गुणवत्ता सोमवार को भी बेहतर रही थी। मेरठ की वायु गुणवत्ता सोमवार को 60 थी। जो कि रात भर में बढ़कर अब 100 के पास पहुंच चुकी है। बारिश बंद होने और हवा का असर कम होने के बाद एक्यूआई में बढ़ोत्तरी होने लगी है। लेकिन अभी भी कुछ हद तक राहत है। मौसम विभाग के अनुसार अभी कुछ दिन और राहत मिल सकती है। बता दे कि 51 से 100 अंकों तक के एयर इंडेक्स को वायु गुणवत्ता की संतोषजनक जबकि 101 से 200 के बीच मध्यम श्रेणी में रखा जाता है।

From around the web