लखीमपुर खीरी घटना के विरोध और किसानों की विभिन्न मांगों को लेकर हाईवे से लेकर कस्बों के मार्ग तक जाम

 
1
मेरठ। लखीमपुर खीरी घटना के विरोध में और किसानों की विभिन्न मांगों को लेकर बुधवार सुबह पश्चिमी यूपी के विभिन्न जनपदों में चक्का जाम किया। भाकियू तोमर के कार्यकर्ताओं ने  मुजफ्फरनगर,मेरठ व बागपत समेत दिल्ली देहरादून-नेशनल हाईवे समेत कई मुख्य मार्गो पर चक्का जाम किया है।
गंगनहर पर किया चक्का जाम
मेरठ में भाकियू तोमर के कार्यकर्ता लखीमपुर खीरी कांड के विरोध में नानू गंगनहर पर पहुंचे और चक्का जाम किया। संगठन के मंडल अध्यक्ष पदम  सिंह जिंजोखर ने बताया कि सुबह 11 बजे से गंगनहर पुल पर जाम लगाया गया। इस दौरान राष्ट्रपति और सीएम के नाम 11 सूत्रीय मांग ज्ञापन अधिकारियों को सौंपा।
मुजफ्फरनगर में दिल्ली-देहरादून नेशनल हाईवे पर खतौली में नावला कोठी और छपार में राष्ट्रीय अध्यक्ष संजीव तोमर के साथ कार्यकर्ताओं ने धरना देकर जाम लगाया है। इसके अलावा पुरकाजी लक्सर मार्ग, शाहपुर में मुजफ्फरनगर बड़ौत मार्ग, मोरना में जानसठ मोरना मार्ग, जानसठ में पानीपत खटीमा राजमार्ग पर किसानों ने जाम लगाया है।
मुख्य मार्गों पर चक्का जाम होने से यात्रियों और राहगीरों को परेशानी का सामना करना पड़ा है। चक्का जाम के दौरान प्रशासनिक अधिकारियों को राष्ट्रपति और मुख्यमंत्री के नाम 11 सूत्रीय मांगों का ज्ञापन सौंपा गया।
लखीमपुर खीरी की घटना के विरोध और किसानो की विभिन मांगो को लेकर बागपत के सरूरपुर गांव में भाकियू तोमर ने नेशनल हाइवे पर पहुंचकर चक्का जाम किया। यहां पुलिस ने  संगठन के नेताओं व कार्यकर्ताओं को समझाने का प्रयास किया। हालांकि किसानों ने घंटे भर तक जाम नहीं खोला और हाईवे पर ही बैठे रहे। इससे मार्ग पर जाम लग गया। वहीं राहगीरों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा।

From around the web