जिलाधिकारी और अन्य अफसरों की मोहरें थी तैयार,पल भर में तैयार कर देता था कोई भी प्रमाण पत्र 

 
1



मेरठ। मेरठ में अब जन सूचना केंद्र में नकली प्रमाण पत्र तैयार करने का मामला प्रकाश में आया है। हरकत में आई पुलिस ने केंद्र संचालक को भारी मात्रा में नकली प्रमाण पत्रों के साथ गिरफ्तार किया है। जन सूचना केंद्र से जिलाधिकारी से लेकर अन्य प्रशासनिक अधिकारियों की फर्जी मोहरें बरामद हुई है। केंद्र में ढाई हजार रुपये में फर्जी चरित्र प्रमाण पत्र से लेकर जाति,आय और जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र तैयार किए जाते थे। पुलिस केंद्र संचालक के अन्य साथियों की तलाश कर रही है। 
थाना ब्रह्मपुरी पुलिस ने माधवपुरम स्थित एक जनसूचना केंद्र पर छापा मारकर उसके संचालक रमन को पकड़ा है। वह परिवार के साथ माधवपुरम में रहता है।

सीओ अमित राय ने बताया कि रमन अपने कुछ साथियों के साथ मिलकर जिलाधिकारी व अन्य प्रशासनिक अधिकारियों के फर्जी हस्ताक्षर कर चरित्र प्रमाण-पत्र, जाति, आय और जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र तक बना रहा था। इतना ही नहीं युवक फर्जी पासपोर्ट भी तैयार कर रहा था। मात्र 500 रुपये लेकर ये प्रमाण-पत्र बना दिए जाते थे।
रमन ने पुलिस के समक्ष इसकों स्वीकार भी किया है। बकौल सीओ, पड़ताल की जा रही है कि रमन ने अब तक कितने प्रमाण पत्र बनाए हैं और कहां-कहां इनका प्रयोग किया गया है।

From around the web