मेरठः 50 लाख के बजट से आवारा कुत्तों की नसबंदी करेगा नगर निगम, बोर्ड बैठक में पास हुआ प्रस्ताव

 

मेरठ। आतंक का पर्याय बन चुके आवारा कुत्तों से शहर की जनता को निजात मिलने की उम्मीद दिखाई दे रही है। बृहस्पतिवार को नगर निगम की बोर्ड बैठक में आवारा कुत्तों की धरपकड़ और नसबंदी के लिए सर्वसम्मति से 50 लाख का बजट पास हुआ है। निगम अधिकारियों का दावा है कि जल्द ही इस पर काम शुरू कर दिया जाएगा।

दरअसल, बृहस्पतिवार को नगर निगम की बोर्ड बैठक के दौरान सभी पार्षदों ने एक स्वर में शहर के लिए आतंक बने आवारा कुत्तों का मुद्दा प्रमुखता के साथ उठाया। जिस पर पार्षदों के साथ चर्चा करते हुए नगर आयुक्त मनीष बंसल और मेयर सुनीता वर्मा ने आवारा कुत्तों की धरपकड़ और नसबंदी के लिए नगर निगम का बजट दो लाख से बढ़ाकर 50 लाख करने का प्रस्ताव पास कर दिया। नगर निगम के अधिकारियों के मुताबिक जल्द ही इस पर काम भी शुरू कर दिया जाएगा। बोर्ड बैठक के दौरान पार्षदों ने नामांतरण की फीस एक हजार से बढ़ाकर 50 हजार किए जाने पर भी विरोध जताया। बैठक के दौरान हाउस टैक्स की वसूली में भी तेजी लाए जाने पर चर्चा की गई। पार्षदों ने आरोप लगाया कि हाउस टैक्स की वसूली में नगर निगम के अधिकारी पिछड़ रहे हैं। 52 करोड का लक्ष्य है, मगर वह पूरा नहीं हो रहा। जिसके चलते निगम के वार्डों में भी विकास कार्य ठप पड़े हैं। जिस पर नगर निगम के अधिकारियों ने हाउस टैक्स वसूली में तेजी लाए जाने के निर्देश दिए हैं। बैठक के दौरान माइक खराब होने को लेकर कई बार हंगामे के हालात भी बने।

From around the web