मेरठ में गर्लफ्रेंड के शौक पूरा करने को सेलरी पड़ गयी कम, तो फूड डिलीवरी ब्वॉय बन गए सड़क के लुटेरे

 
1


मेरठ। गर्लफ्रैंड का शौक पूरा करने के लिए सेलरी कम पड़ने लगी तो फूड डिलीवरी करने वाले तीन युवकों ने बना डाला राहगीरों को लूटने वाला लुटेरा गैंग। नौकरी करने के बाद युवकों के पास जो खाली समय बचता उसमें वे बाइक लेकर सड़क पर निकल जाते और लूटपाट करते थे। गर्ल फ्रैंड के शौक पूरे करने के लिए तीन युवक राहगीरों से लूटपाट करने लगे। पुलिस ने सीसीटीवी से पहचान कर आरोपितों को पकड़ लिया। पुलिस ने इनके कब्जे से मोबाइल, एटीएम व नकदी बरामद की है।

कोतवाली थाना क्षेत्र के लाला का बाजार स्थित शीशमहल निवासी रजत सिंघल एक कंपनी में अकाउंटेंट है। शनिवार रात वह स्कूटी से घर लौट रहे थे। इसी बीच एक बुजुर्ग ने उनसे लिफ्ट मांगी। बुजुर्ग को विक्टोरिया पार्क के पास उतारकर वह आगे चल दिए। जैसे ही वह प्रोफेसर कॉलोनी के पास पहुंचे तो तीन युवकों ने उन्हें रोक लिया और मारपीट कर आरोपितों ने उनसे मोबाइल व पर्स लूट लिया। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर आरोपितों की तलाश शुरू कर दी।
करीब पचास से ज्यादा फुटेज खंगालने पर आरोपितों की पहचान मन्नू राजपूत निवासी नेहरूगर थाना नौचंदी, दिनेश चौहान उर्फ हनी निवासी हनुमानपुरी, सूरजकुंड व हरीश निवासी आर्यनगर थाना सिविल लाइन के रूप में हुई। इन्हें पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में उन्होंने बताया कि दिन में वह फूड डिलीवरी का काम करते थे। गर्लफ्रेंड के खर्चे पूरे करने के लिए सेलरी कम पड़ती थी। इस वजह से वह रात के समय लूटपाट करने लगे।

From around the web