लोक अदालत में वैवाहिक विवादोंं का समाधान 22 जनवरी को

 
्
मेरठ। उत्तर प्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, लखनऊ के पत्र के अनुसार मा0 उच्च न्यायालय, इलाहाबाद द्वारा गठित समिति के निर्देशानुसार दिनांक 22 जनवरी 2022 को पारिवारिक विवादों का प्री-लिटीगेंशन स्तर पर निस्तारण कराने हेतु प्रिलिटिगेशन स्पेशल लोक अदालत फाॅर मैट्रीमोनियल डिस्पयूट का आयोजन किया जा रहा है। यह जानकारी सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण मेरठ अन्जू काम्बोज ने दी है। उन्होंने बताया कि समिति द्वारा उक्त लोक अदालत का व्यापक प्रचार-प्रसार दूरदर्शन, आकाशवाणी, एम0एम0, व्यक्तिगत सम्पर्क, रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन, सामुदायिक स्थलो एवं जन-प्रतिनिधियों इत्यादि की सहायता से किये जाने हेतु निर्देशित किया गया है।
उन्होंने बताया कि उपरोक्त विषयक के अनुपालन में 22 जनवरी 2022 को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, मेरठ द्वारा वैवाहिक विवादों को प्रीलिटीगेशन स्तर पर समाधान किये जाने हेतु विशेष लोक अदालत का आयोजन किया जायेंगा। विशेष लोक अदालत में महिला थाने तथा अन्य थानों में पति एंव पत्नी के मध्य विभिन्न कारणों से उत्पन्न विवाद व पारिवारिक मामलों का निस्तारण प्रीलिटीगेशन स्तर पर किये जाने हेतु दिशा निर्देश दिये गए। विशेष लोक अदालत में दोनों पक्षों के आपसी सुलह समझौते के आधार पर विवाद का निस्तारण किया जाएगा। जिससे कि दोनों पक्षों के बीच उत्पन्न द्वेष को समाप्त किया जायेंगा। न्यायालय के मुकदमों की संख्या में भी कमी आयेगी।
उन्होंने बताया कि यदि किसी पति व पत्नी तथा परिवार के मध्य कोई वैवाहिक विवाद चल रहा है तो वह स्वंय तथा अपने नजदीकी रिश्तेदार के माध्यम से विवाद का संक्षिप्त विवरण प्रार्थी/प्रार्थिनी तथा विपक्षी का नाम व निवास स्थान का पता, फोन नम्बर, फोटोग्राफ एंव पहचान पत्र आदि प्रार्थना पत्र के साथ संलग्न करते हुए किसी भी कार्य दिवस में उपस्थित होकर अपना प्रार्थना पत्र जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, मेरठ के कार्यालय के समक्ष प्रस्तुत कर सकता है। जिसमें दोनों पक्षों को नियमानुसार सूचना प्रेषित करने के उपरान्त समझौता कराया जायेगा जो निर्णय दोनों पक्षों के मध्य सिविल न्यायालय के समान बाध्यकारी होगा।

From around the web