28 नवंबर को खूब बजेगी शहनाई, बैंकेट हाल से लेकर मोहल्ले के पार्क तक हुए बुक

 
ो

मेरठ। देवोत्थान एकादशी के बाद से शुरू हुआ शादी के सीजन का 28 नवंबर को विशेष महत्व है। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार इस दिन विशेष शुभ ​मुहूर्त होने के कारण ये इस साल का सबसे अच्छा शादी का मुहूर्त माना जा रहा है। इस दिन मेरठ में ही करीब 3 हजार से अधिक शादियां हैं। इस बार शादियों का सीजन वैसे भी काफी अच्छा रहा है। व्यापारी, फार्म हाउस संचालक, विवाह मंडप मालिक, होटल संचालक, कैटरिंग, हलवाई सबके चेहरे खिले हुए हैं। व्यापारियों का कहना है कि कोरोना के बाद पहली बार इस सीजन में अच्छी शादियां हो रही हैं। आगामी 28 नवंबर को मेरठ में सभी फार्म हाउस, बैंकेट हाल और मेरिज होम बुक हो चुके हैं। इसके लिए लोगों ने तीन महीने पहले से ही बुकिंग कराई हुई थी।
मेरठ मंडप एसोसिएशन के अध्यक्ष विपुल सिंघल ने बताया कि वेडिंग सीजन के लिए बुकिंग अभी भी जारी है। शहर में छोटे बड़े मिलाकर करीब 1500 बैंकेट हाल और मैरिज होम हैं। 150 से अधिक फार्म हाउस हैं। 500 से अधिक टेंट हाउस वाले हैं। सभी के पास 28 नवंबर की बुकिंग फुल है। उन्होंने बताया कि पिछले साल कोरोना की वजह से कई शादियां टल गई थीं। अब वही लोग इस सीजन में शादियां कर रहे हैं। शादी विवाह को लेकर टेंट, लाइट, कैटरिंग, भाड़े के वाहन और विवाह स्थल एवं धर्मशालाओं में भी अब जगह नहीं रह गई है। उन्होंने बताया कि इस बार 2019 और 2020 के मुकाबले एक हजार से ज्यादा शादियां, मैरिज हॉल, धर्मशालाएं, होटल आदि में की जा रही हैं। कोरोना काल के बाद बाजार की चांदी :
व्यापारियों के मुताबिक बाजार में विवाह की खरीदी जोरदार है। कोरोना के बाद पहली बार इस बार व्यापारियों के चेहरे खिले हैं। ग्राहकों इतनी ज्यादा कि फुर्सत ही नहीं मिल रही है। शादियों का सीजन देवोत्थान एकादशी से शुरू हुआ और दिसंबर तक लगातार शादी की लग्न है।

From around the web