पाॅवरलूम बुनकरों को विद्युत दर में छूट प्रतिपूर्ति हेतु प्रदेश सरकार ने किया 250 करोड रुपये के बजट का प्रावधान

 
1
मेरठ। राज्यमंत्री सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम, खादी एवं ग्रामोद्योग, रेशम, हथकरघा एवं वस्त्रोद्योग तथा निर्यात प्रोत्साहन विभाग उ0प्र0 उदयभान सिंह ने आज जनपद का दौरा किया। सर्किट हाऊस में अधिकारियों के साथ मंडलीय समीक्षा करते हुये योजनाओ को प्रभावी ढ़ग से लागू करने तथा पवित्रता के साथ बजट का उपयोग करने के लिए कहा। उन्होंने विकास भवन सभागार में मीडिया बंधुओ के साथ प्रदेश सरकार के साढे चार साल पूर्ण होने के उपलक्ष्य में प्रेसवार्ता भी की।
राज्यमंत्री उदयभान सिंह ने कहा कि कृषि के बाद एमएसएमई ही रोजगार का मुख्य साधन है। उन्होंने कहा कि उ0प्र0 सर्वोत्तम व भारत आत्मनिर्भर बनने की ओर अग्रसर है। उन्होने कहा कि गांव की कला व काम की विश्व में ख्याति होगी। उन्होने कहा कि कानून सबसे उपर है तथा प्रदेश में कानून का राज है। उन्होने कहा कि किसान हमारे साथ है। केन्द्र व प्रदेश सरकार ने जितनी योजनाएं व कार्य किसानो के लिए किये है उतने पिछले 70 वर्षों में भी नहीं हुये है।
राज्यमंत्री उदयभान सिंह ने कहा कि मिशन रोजगार के तहत प्रदेश शिक्षित 4.50 लाख युवाओं को सरकारी विभागों में नौकरियां प्रदान की गयी। 3.50 लाख युवाओं की संविदा पर सरकारी विभागों में तैनाती दी गयी। 82 लाख एमएसएमई इकाईयों को रू0 2.16 हजार करोड़ का ऋण वितरित कर लगभग 02 करोड़ लोगो को प्राईवेट सेक्टर में रोजगार उपलब्ध कराया गया। एक जनपद एक उत्पाद में 25 लाख लोगों को रोजगार दिलाकर स्थानीय उत्पादों के प्रोत्साहन एवं विश्वस्तरीय पहचान दिलाने का कार्य किया।
इस अवसर पर अपर आयुक्त चैत्रा वी0, सीडीओ एस0 चैधरी, उपायुक्त उद्योग वी0 के0 कौशल, सहायक निदेशक हैण्डलूम सुनील यादव सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।

From around the web