दो पक्षों में जमकर चले धारदार हथियार, चार महिलाओं समेत एक दर्जन घायल

 
y
मेरठ। जिले के थाना सरधना क्षेत्र के एक गांव में देर रात आपसी कहासुनी का विरोध करने पर दो पक्ष आमने-सामने आ गए। इस दौरान दोनों पक्षों में धारदार हथियार चले और पथराव भी हुआ। इस दौरान दोनों पक्षों से 4 महिलाओं सहित एक दर्जन लोग घायल हो गए। वहीं, एक पक्ष ने फब्तियां कसने और दूसरे पक्ष ने घर में घूसकर महिलाओं से छेड़छाड़ का आरोप लगाया है। साथ ही एक पक्ष ने थाने में पुलिस पर अभद्रता का भी आरोप लगाया है।
महादेव गांव निवासी साहिबा पुत्री अनीस ने बताया कि उसके भाई अजीम व शाहनवाज नमाज पढ़कर घर लौट रहे थे। आरोप है कि इसी दौरान कुछ लोगों ने फब्तियां कसनी शुरू कर दी थी। जब उन्होंने विरोध किया तो आरोपितों ने एक जुट होकर धारदार हथियार से हमला कर दिया। साथ ही आरोपितों ने पथराव भी किया। उधर, जानकारी पर अनीस व आसपास के लोगों ने मौके पर पहुंचकर बीच-बचाव किया। आरोपितों ने उन पर भी हमला कर मारपीट कर दी। जिसमें अजीम, शाहवाज, अनीस, अर्जुन व सरजुन घायल हो गए। बताया गया कि वहीं पथराव में साहिबा भी मामूली घायल हुई। उधर, दूसरे पक्ष का कहना है कि आरोपित धारदार हथियार लेकर घर में आ गए और गाली-गलौज कर परिवार की महिलाओं से अभद्रता करने लगे। जब उन्होंने विरोध किया तो आरोपितों ने धारदार हथियार से हमला कर घायल कर दिया। जिसमें चार महिलाओं समेत एक दर्जन लोग घायल हो गए। इसके बाद दोनों पक्ष थाने में पहुंचे और पुलिस ने घायलों का उपचार सीएचसी में करवाया। साहिबा ने बताया कि उनकी तरफ से तहरीर दे दी गई है।
साहिबा ने बताया कि जब वह स्वजन के साथ थाने पहुंची तो पुलिस ने कार्रवाई की बजाए उनसे अभद्रता की। इस पर थाने से बाहर आ गई। इंस्पेक्टर लक्ष्मण वर्मा ने बताया कि दोनों पक्षों से तहरीर मिल गई है। दोनों पक्षों के मुकदमा लिखा जा रहा है। जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी।

From around the web