मेरठ में रात में ससुराल पहुंची विवाहिता तो ससुरालियों ने गेट बंद कर बुला ली पुलिस

 
1

मेरठ। मायके से अपने ससुराल आई एक विवाहिता के लिए ससुराल वालों ने गेट नहीं खोला। विवाहिता ने जब अपने ससुरालियों को आवाज लगाई तो उन्होंने थाना पुलिस को फोन कर दिया। काफी देर तक विवाहिता एवं उसकी भाभी गेट की घंटी बजाते रहे। पुलिस भी मौके पर पहुंची। लेकिन पुलिस के कहने के बाद भी ससुरालवालों ने गेट नहीं खोला। जिसके चलते विवाहिता अपनी भाभी के साथ गेट पर ही धरने पर बैठ गई। बाद में पुलिस ने समझा बुझाकर विवाहिता को मायके वालों के साथ भेज दिया है।
मामला नौचंदी थाना क्षेत्र की फूलबाग कॉलोनी का है। जहां शनिवार आधी रात को एक विवाहित अपनी ससुराल के बाहर धरने पर बैठ गई। सूचना पर नौचंदी थाना पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस के अनुसार सोमदत्त सिटी निवासी स्नेहा फूलबाग कालोनी निवासी अश्वनी आर्य से हुई थी। कुछ समय बाद ही स्नेहा अपने पिता के घर आ गई और मेडिकल थाने में दहेज उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज करवा दिया था। शनिवार को स्नेहा अपने भाई कपिल और भाई के साथ ससुराल आ गई। ससुराल पक्ष ने पुलिस को फोन कर दिया। स्नेहा का कहना है कि उसका पति मुंबई में काम करता है। उनकी शादी को पांच साल हो गए लेकिन आज तक पति उसको लेकर नहीं गया। अब वो आता भी नहीं है। वहीं पीडिता स्नेहा के भाई कपिल ने बताया कि उनका छोटा सा परिवार है। उनके पिता की भी चार महीने पूर्व मृत्यु हो चुकी है। उनकी बहन को उसके ससुराल वाले प्रताड़ित कर रहे हैं। शादी में उन्होंने अपनी क्षमता के अनुसार दानदहेज दिया था। लेकिन शादी के बाद से उन्होंने रुपयों की मांग शुरू कर दी। करीब 5 लाख रुपये उन्हें दिये गए। इसके बाद भी उसकी बहन को उसकी ससुराल लेकर नहीं जा रहे हैं। उनसे पूछा भी कि वह लोग क्यों नहीं लेकर जा रहे हैं। लेकिन उन्होंने कोई कारण नहीं बताया। परेशान होकर उनकी बहन अपनी ससुराल के सामने धरने पर बैठ गई।

From around the web