युवक ने पकड़ा हाथ तो निकाह करने पर अड़ी युवती, पंचायत से थाने तक पहुँचा मामला

 
1
मेरठ। मामला थाना सरधना क्षेत्र के एक गांव का है। जहां  बंजारा जाति के युवक ने अपनी ही जाति की युवती का हाथ पकड़ लिया। युवक के हाथ पकड़ने पर युवती उसके साथ निकाह करने की जिद कर बैठी। युवती ने ये बात अपने परिजनों को बताई तो वो भी युवक से निकाह कराने की जिद पर अड़ गए। इस मामले को लेकर दोनों पक्षों की पंचायत हुई। निकाह के लिए काजी को बुलाया। लेकिन युवक ने कबूल है, नहीं बोला। जिसके बाद मामला थाने पहुंच गया। वहां भी दोनों पक्षों में काफी देर हंगामा हुआ। लेकिन कोई फैसला नहीं हुआ।
युवती का कहना है कि वो किसी काम से जाने के लिए घर से निकली थी। रास्ते में उसी की बंजारा जाति के युवक ने उसका हाथ पकड़ लिया। उसने शोर मचा दिया। लोगों की भीड़ जमा हो गई। युवती ने कहा कि युवक ने उसका हाथ पकड़ा है तो अब वह इसी से निकाह करेगी। परिजन भी मामले की जानकारी मिलने पर मौके पर पहुंचे। इसे लेकर हंगामा होते-होते देर शाम हो गई। कुछ तय न होने पर रात में गांव में पंचायत बैठी। जिसमें युवती के परिजन तो निकाह के लिए तैयार थे, लेकिन युवक के परिजन राजी नहीं थे। उसके बावजूद निकाह के लिए पंचों ने पंचायत में ही काजी को बुलवा लिया।
काजी ने पंचायत में युवक व युवती से एक-दूसरे को निकाह कबूल करने को कहा। युवती ने निकाह कबूल है बोल दिया, लेकिन युवक ने नहीं बोला। जिसे लेकर पंचायत में बवाल हो गया। पंचायत खत्म हुई और मामला थाने पहुँच गया। थाना पुलिस ने दोनों पक्षों को सुनने के बाद कहा कि जबरन किसी पर दबाव नहीं बनाया जा सकता। युवक ने निकाह करने से मना कर दिया है।थाने पर भी पंचों ने दोनों पक्षों को कुछ दिन का समय दिया है। यदि युवक तैयार हो जाता है तो उसका निकाह करा दिया जाएगा।
थानाध्यक्ष, सरधना लक्ष्मण वर्मा ने बताया कि युवती और उसके परिजन निकाह के लिए राजी हैं, लेकिन युवक पक्ष तैयार नहीं था। इसके बाद दोनों पक्ष वापस लौट गए।

From around the web