विश्व आत्महत्या निषेध दिवस: ''जिंदगी से करिए प्यार, आत्महत्या किसी भी समस्या का समाधान नहीं'' 

 
1
मेरठ। विश्व आत्महत्या निषेध दिवस के अवसर पर पर्यावरण एवं स्वच्छता क्लब द्वारा खालसा गर्ल्स इंटर कॉलेज में जागरूकता कार्यक्रम किया गया। क्लब निदेशक आयुष गोयल और पीयूष गोयल ने बताया जीवन अनमोल है जिंदगी बार-बार नहीं मिलती,जीवन के प्रति सकारात्मक नजरिया रखिए जिंदगी से प्यार करिए आत्महत्या किसी भी समस्या का समाधान नहीं हो सकता ।
मुख्य वक्ता दीप्ति कौशिक विभागाध्यक्ष समाजशास्त्र विभाग स्माइल पीजी कॉलेज ने बताया आत्महत्या का सबसे बड़ा कारण डिप्रेशन है डिप्रेशन दूर करने के लिए नियमित रूप से योग करना चाहिए। अपने आप को व्यस्त रखने का प्रयास करें, जीवन का लक्ष्य निर्धारित करे, उसे प्राप्त करने के लिए कठिन परिश्रम करें, जीवन को सार्थक बनाएं, दूसरों के लिए मिसाल कायम करें। समाजसेवी विपुल सिंघल ने बताया आत्महत्या के विषय में सोचना भी गलत है जब हम स्वयं अपने जीवन का आरंभ नहीं कर सकते तो हमें अपने जीवन का अंत कैसे कर सकते हैं।
लक्ष्मी शर्मा ने सभी को जिंदगी जीने के लिए प्रेरित किया। प्राचार्य डॉ0 मनु भारद्वाज ने कहा खुदकुशी केवल एक इंसान की ही जान नहीं लेती , उस व्यक्ति से जुड़े व्यक्तियों,परिवार एवं समाज को भी प्रभावित करती है। इस कार्यक्रम में आयुष पीयूष गोयल,  खालसा इंटर कॉलेज की प्राचार्य डॉक्टर मनु भारद्वाज, मुख्य अतिथि डॉ दीप्ति कौशिक विभागाध्यक्ष स्माइल पीजी कॉलेज, लक्ष्मी शर्मा , विपुल सिंघल, खालसा इंटर कॉलेज की अध्यापिका  सतनाम, हर्ष, चंचल, रश्मि, मीतू शर्मा, गुविन्दर, नीना, ऋतु आदि मौजूद रहे।

From around the web