मेरठ में आईआईटी की कोचिंग कर रहे युवक ने पिता की लाइसेंसी पिस्टल से गोली मारकर की आत्महत्या

 
1
मेरठ। आईआईटी की कोचिंग कर रहे एक युवक ने पिता की लाइसेंसी पिस्टल से गोली मारकर आत्महत्या कर ली। मृतक युवक के पिता सहायक विकास अधिकारी हैं और वे हस्तिनापुर ब्लॉक में तैनात हैं। बेटे के आत्महत्या करने से घर में हाहाकार मच गया। मृतक युवक कोटा में रहकर आईआईटी की कोचिंग कर रहा था और इन दिनों अवकाश होने पर घर आया हुआ था। पुलिस ने कमरे का दरवाजा तोड़कर शव को बाहर निकाला और पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। इधर, आत्‍महत्‍या की सूचना से परिवार में कोहराम मच गया। 
मेडिकल थाना क्षेत्र के मंशा देवी मंदिर रोड स्थित रजपुरा ब्लॉक कार्यालय परिसर में एडीओ पंचायत पवन कुमार परिजन के साथ रहते हैं। वह हस्तिनापुर में तैनात हैं और दो माह से निलंबित चल रहे हैं। वह मूल रूप से चंद्रलोक कॉलोनी खुर्जा, बुलंदशहर के रहने वाले हैं। करीब 12 साल से इसी परिसर में रह रहे हैं। उनका बेटा वंश प्रताप कोटा में आईआईटी की कोचिंग करता था। लॉकडाउन में छुटटी के चलते वंश फिलहाल घर पर ही था। वंश ने कमरे में बंद होकर पिता की लाइसेंसी पिस्टल से कनपटी पर गोली मार ली। उसकी मौके पर ही मौत हो गई।
इस मामले में अभी यह जानकरी नहीं हो पाई है कि उसने खुदकुशी क्‍यों की। पुलिस ने बताया कि परिजनों से बात की जाएगी। अभी तक इस मामले में जांच चल रही है। पूछताछ के बाद जानकारी ली जाएगी कि आत्‍महत्‍या करने के पीछे का कारण क्‍या था। पुलिस ने बताया कि शव का पोस्‍मार्टम कराने के लिए भेजा गया है।

From around the web