मुरादाबाद में दुकानदार की हत्या, उधार रुपये न देने पर की थी हत्या, दो गिरफ्तार

 
न

मुरादाबाद,- उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में स्पेयर्स पार्ट्स दुकानदार हत्याकांड मामले में खुलासा करते हुए पुलिस ने दो हत्यारोपियों को गिरफ्तार कर उनके पास से 3,50,000 रूपये की नगदी बरामद की है।
अपर पुलिस महानिदेशक ने पुलिस टीम को एक लाख रुपये पुरुस्कार देने की घोषणा की है।
पुलिस महानिरीक्षक शलभ माथुर ने पुलिस लाईन में पत्रकारों को बताया कि चार जून की रात्रि को संजीव गुप्ता निवासी शनिवार का बाजार कस्बा ने अपने छोटे भाई कुलदीप की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करायी थी। घटना के खुलासे के लिये पांच टीमों का गठन किया गया था। पांच जून को शाम बिजनौर जिले के स्योहारा क्षेत्र में एक 45 वर्षीय व्यक्ति का शव पाये जाने की पुलिस को सूचना प्राप्त हुई थी जिसकी शिनाख्त कुलदीप गुप्ता के रूप में हुई।
मामले की जांच में नंद किशोर उर्फ नन्दू, कर्मवीर उर्फ भोलू ,रनवीर उर्फ नन्हे के नाम प्रकाश मे आये जिनकी गिरफ्तारी के प्रयास तेज किये गये। इस सिलसिले में नन्दू और भोलू सिविल लाइन क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया। घटना का इकबाल करते हुये  नन्दू ने बताया कि उसकी मुलाकात कुलदीप से बुद्धि विहार मे एक शादी समारोह मे हुई थी। तब से एक दूसरे के यहाँ आना जाना शुरू हो गया था। उसके पास मोडरोन हैल्थ केयर की फ्रैचाइजी है, जिसमें दवा लाने के लिये मुझे पैसे की आवश्यकता थी इसलिये उसने कुलदीप से करीब दो माह पूर्व 65 हजार रूपये उधार मांगे थे, जो मृतक नें मुझे देने से मना कर दिया था तथा समाज में पैसे मांगने वाली बात को लेकर काफी बदनामी कर दी थी और यह बात भी फैला दी थी कि नन्दकिशोर ने तमाम लोगो से काफी पैसा उधार तथा ब्याज पर भी ले रखा था। जिसे वह चुका नही पा रहा ।
इन कारणो से कुलदीप से रंजिश रखने लगा था और इस बदनामी का बदला लेने की फिराक मे था। उसने अपने सगी बुआ के दोनों लडको नन्हे और भोलू की मदद से हत्या की घटना को अंजाम दिया है।

From around the web